Wednesday, October 28, 2020
More
    Home National सूर्योदय और सूर्यास्त पर जलेंगी-बुझेंगी स्ट्रीट लाइटें

    सूर्योदय और सूर्यास्त पर जलेंगी-बुझेंगी स्ट्रीट लाइटें

    कानपुर, 25 सितंबर (आईएएनएस)। कॉलोनियों में स्थानीय निवासियों और सड़कों पर सरकारी विभागों की लापरवाही से अक्सर दिन में रोशन रहने वाली स्ट्रीट लाइट को जलाने बुझाने में अब राहत मिलेगी। दिन भर जलने वाली लाइट से बहुत सारी ऊर्जा नष्ट होती है। बार-बार लाइट ऑन-आफ करने के झंझट से मुक्ति दिलाने के लिए कानपुर के दो नौजवानों ने स्मार्ट स्विच तैयार किए हैं जो सूर्योंदय और सूर्यास्त के हिसाब से काम करेंगे।

    स्टार्टअप के तहत ये स्विच शिवशंकर और शुभांकर बंका ने बनाए है। ट्रायल के तौर पर उन्होंने लखनऊ , कानपुर समेत प्रदेश के कई जिलों में इसे लगाया है, जो कि अच्छा काम कर रहे हैं।

    कानपुर के रहने वाले कम्प्यूटर साइंस के शिवशंकर और सीए शुभांकर ने स्ट्रीट लाइट आटोमेशन एंड मैनेंजिंग पावर सिस्टम बनाया है। सॉफ्टवेयर से संचालित ये स्विच सूर्योदय और सूर्यास्त के समय को पहचान कर खुद ब खुद लाइट को ऑन-ऑफ करेगा।

    शुभांकर ने आईएएनएस से बातचीत में बताया कि जैसे पंचाग में सूर्योदय और सूर्यास्त का समय बताया जा सकता है, 150 वषों तक गणना करता है, ठीक उसी तरह इस स्विच से सूरज उगते समय लाइट ऑन हो जाती है और सूरज अस्त के समय लाइट बंद हो जाती है। इससे बहुत सारी ऊर्जा का बचाव होता है। इससे लाइटों की लाइफ भी बढ़ती है। उन्होंने बताया कि, बाजार में सेंसर वाले स्विच बहुत सारे हैं जो अंधेरे में ऑन होता है। लेकिन यह मौसम की अद्रता से जल्दी खराब हो जाते हैं। तो हमने सोचा कि क्यों न ऐसा विकल्प बनाएं जो काफी समय तक चले।

    उन्होंने बताया कि इसमें माइक्रो प्रोसेसर लगा है जो साफ्टवेयर की मदद से चलता है। साटवेयर साथ में जुड़ा है। इस साटवेयर की मदद से स्विच को गर्मी में देर से होने वाली रात या जल्दी होने वाली सुबह और सर्दी में जल्दी होने वाली रात और देर से होने वाले सूर्योदय का भी पता रहता है। पंचाग की तर्ज पर रोज सूर्योदय, सूर्यास्त का समय देख सकते हैं, उसी तरह यह स्विच भी खुद समय पता कर स्विच को ऑन-ऑफ करता है।

    शुभांकर ने बताया कि 500 वॉट, एक किलोवॉट, दो किलोवॉट और पांच किलोवॉट में ये स्विच तैयार किये गये हैं। इसमें क्षमता के अनुरूप लाइट जोड़ी जा सकती हैं, मसलन 500 वॉट के स्विच से सौ वॉट की पांच लाइट ऑन-ऑफ होंगी। इसमें माइक्रो कम्प्यूटर है। इसका बैट्री बैकप 10 साल का है। इसे लखनऊ , कानपुर के अलावा नगर पालिकाओं बंगरमऊ , मल्लावा, हरदोई, शाहजहांपुर, शाहबाद में लगाया गया है। हर वॉट के हिसाब से इसकी कीमत रखी गयी है।

    बंका ने बताया कि लखनऊ के नगर-निगम ने इसे लखनऊ के जागरण चौराहे पर लगाया है। कानपुर में कुछ पाकोर्ं का आर्डर मिला है और जहां नये पार्क बन रहे हैं वहां भी इस स्विच को लगाया जाना है। हारकोर्ट बटलर प्राविधिक विश्वविद्यालय (एचबीटीयू) इलेक्ट्रिकल विभाग ने इसे सर्टिफि केट भी दिया है।

    विकेटी-एसकेपी



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    महामारी के बीच यौनकर्मियों को सूखा राशन दें राज्य : सुप्रीम कोर्ट

    नई दिल्ली, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को सभी राज्य सरकारों को पर्याप्त मात्रा में और एकरूपता के साथ...

    टेनिस : दिविज, बोमब्रिज अस्टाना ओपन के क्वार्टर फाइनल में

    नूर सुल्तान (कजाकिस्तान) 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत के दिविज शरण और उनके ग्रेट ब्रिटेन के जोड़ीदार ल्यूक बोमब्रिज ने उरुग्वे के...

    मप्र में उप-चुनाव राष्ट्रवाद और राष्ट्रविरोधियों के बीच : उमा भारती

    भिंड, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने कहा है कि राज्य में हो रहे उप-चुनाव राष्ट्रवाद और...

    केजरीवाल मानहानि के 4 साल पुराने मामले में बरी

    नई दिल्ली, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली की एक अदालत ने बुधवार को भाजपा विधायक रमेश बिधूड़ी की ओर से वर्ष 2016...

    Recent Comments

    WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com