Saturday, October 31, 2020
More
    Home Education जम्मू-कश्मीर: स्कूल खुले लेकिन सुरक्षा की जिम्मेदारी माता-पिता की

    जम्मू-कश्मीर: स्कूल खुले लेकिन सुरक्षा की जिम्मेदारी माता-पिता की

    डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू और कश्मीर में सोमवार से कक्षा 9वीं से 12 वीं के स्कूल फिर से खुल रहे हैं लेकिन छात्रों की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी अभिभावकों की होगी। स्कूल शिक्षा निदेशालय ने ऐसा तरीका अपनाया है जिसमें बच्चों की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी माता-पिता पर डाल दी गई है।

    इसके तहत निदेशालय अभिभावकों से जो लिखित अनुमति ले रहा है, उसमें लिखा गया है कि मैं जिम्मेदारी लेता हूं कि मैं कोविड-19 संक्रमण की किसी भी घटना के लिए स्कूल में किसी को भी दोषी नहीं ठहराऊंगा। यह स्वीकृति उन सभी अभिभावकों को हस्ताक्षर करके देनी होगी जो कक्षा 9वीं से 12 वीं के बच्चों को स्कूल भेज रहे हैं।

    इन निर्देशों में यह भी कहा गया है कि माता-पिता फेस मास्क, सैनिटाइजर देने के साथ-साथ यह भी सुनिश्चित करेंगे की बच्चे बेल्ट, अंगूठी, घड़ी आदि न पहनें। 5 अगस्त, 2019 को राज्य में अनुच्छेद 370 निरस्त करने के बाद भी शैक्षणिक संस्थान बंद कर दिए गए थे। इन्हें इस साल मार्च में फिर से खोलने का निर्णय लिया गया था, लेकिन कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए स्कूल बंद करने पड़े।

    केन्द्रशासित प्रदेश में कोविड मामलों की बढ़ती संख्या के बाद भी स्कूलों को फिर से खोलने के निर्णय की खासी आलोचना हो रही है। यहां आम धारणा है कि महामारी को देखते हुए अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने से हिचक रहे हैं।



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    बुमराह ने रबादा से छीना पर्पल कैप

    नई दिल्ली, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर दिल्ली कैपिटल्स...

    कनाड़ा 401,000 नए प्रवासियों को स्वीकार करेगा, भारतीय होंगे सबसे बड़े लाभार्थी

    टोरंटो, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। कनाडा 350,000 के सामान्य वार्षिक आंकड़े के मुकाबले 2021 में रिकॉर्ड 401,000 नए प्रवासियों को स्वीकार करेगा।कोविड-19...

    विज्ञापनों पर केंद्र ने एक साल खर्च किए 713.20 करोड़ रुपये : आरटीआई

    मुंबई, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत सरकार ने वित्त वर्ष 2019-2020 के दौरान विज्ञापनों पर 713.20 करोड़ रुपये खर्च किए, जिसमें सबसे...

    कश्मीर में जिहाद समर्थक सभाएं रोकने को 125 आतंकियों के शव नहीं सौंपे गए

    श्रीनगर, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। आतंकवाद विरोधी अभियानों के दौरान मारे गए लगभग 125 स्थानीय आतंकवादियों को इस साल जम्मू-कश्मीर में उनके...

    Recent Comments