Wednesday, October 28, 2020
More
    Home National नए कृषि कानून किसानों के दिल में छुरा मारने जैसा : राहुल...

    नए कृषि कानून किसानों के दिल में छुरा मारने जैसा : राहुल गांधी

    नई दिल्ली, 29 सितम्बर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार की ओर से लाए गए नए कृषि कानूनों के विरोध में आवाज बुलंद करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को दावा किया कि ये कानून किसानों के दिलों में छुरा मारने और उनकी रीढ़ की हड्डी तोड़ने के लिए लाए गए हैं।

    उन्होंने लगभग 10 मिनट तक वर्चुअल रूप से किसानों के साथ बातचीत भी की।

    कांग्रेस नेता ने कहा, हमें बताया गया था कि 2016 में नोटबंदी का उद्देश्य काले धन से लड़ना था, लेकिन यह झूठ था। मुख्य उद्देश्य किसानों और श्रमिकों को आर्थिक चोट पहुंचाना था।

    उन्होंने कहा, इसी तरह, वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के रोलआउट का उद्देश्य समान था। कोरोनोवायरस महामारी के दौरान भी गरीबों को पैसे दिए जाने की जरूरत थी, लेकिन सरकार ने कुछ भी नहीं दिया।

    राहुल ने कहा, एनडीए सरकार का उद्देश्य किसानों और श्रमिकों की रीढ़ की हड्डी तोड़ना है। नोटबंदी और कृषि कानूनों के बीच या जीएसटी रोलआउट और कृषि कानूनों के बीच कोई अंतर नहीं है। अंतर केवल यह है कि तीनों कृषि कानून आपके दिल में छुरा मारने के समान है। मैं बहुत स्पष्ट हूं कि हमें केवल किसानों के लिए नहीं बल्कि देश के लिए इसका विरोध करने की जरूरत है।

    कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि वे (भाजपा) कभी भी भारत की आजादी के लिए नहीं लड़े क्योंकि उन्होंने ब्रिटिश शासकों का साथ दिया और किसानों के मुद्दों की उन्हें समझ नहीं है।

    बातचीत के दौरान, पंजाब, बिहार, हरियाणा और महाराष्ट्र जैसे राज्यों के किसानों ने किसान कानूनों और न्यूनतम समर्थन मूल्य पर चिंताओं, कृषि उपज और अन्य जरिए से कमाई पर अपने विचारों को रखा।

    राहुल गांधी ने 2011-12 के दौरान उत्तर प्रदेश के भट्टा पारसौल में भूमि अधिग्रहण कानून के विरोध में अपनी भागीदारी को याद किया। उन्होंने कहा, भट्टा परसौल में, किसानों के विरोध के दौरान, मैंने देखा कि उद्योगपति न केवल जमीन चाहते थे, बल्कि फसल उत्पादन भी चाहते थे। उस समय, मीडिया ने मुझे निशाना बनाया था।

    वीएवी-एसकेपी



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    हिमाचल हाईकोर्ट ने पत्नी की नग्न तस्वीरें शेयर करने के आरोपी की जमानत याचिका खारिज की

    शिमला, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट ने अपराध की गंभीरता और उसके शारीरिक एवं मनोवैज्ञानिक प्रभाव को देखते हुए सोशल...

    महामारी के बीच यौनकर्मियों को सूखा राशन दें राज्य : सुप्रीम कोर्ट

    नई दिल्ली, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को सभी राज्य सरकारों को पर्याप्त मात्रा में और एकरूपता के साथ...

    टेनिस : दिविज, बोमब्रिज अस्टाना ओपन के क्वार्टर फाइनल में

    नूर सुल्तान (कजाकिस्तान) 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत के दिविज शरण और उनके ग्रेट ब्रिटेन के जोड़ीदार ल्यूक बोमब्रिज ने उरुग्वे के...

    मप्र में उप-चुनाव राष्ट्रवाद और राष्ट्रविरोधियों के बीच : उमा भारती

    भिंड, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने कहा है कि राज्य में हो रहे उप-चुनाव राष्ट्रवाद और...

    Recent Comments

    WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com