Saturday, October 31, 2020
More
    Home National अटल की कर्मभूमि से योगी ने किया मिशन शक्ति का शंखनाद

    अटल की कर्मभूमि से योगी ने किया मिशन शक्ति का शंखनाद

    लखनऊ, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में महिला सुरक्षा और विकास के सबसे बड़े अभियान का शनिवार को आगाज कर दिया गया। भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी की कर्म भूमि बलरामपुर से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मिशन शक्ति का शंखनाद किया। राजधानी में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने पिंक पेट्रोल को हरी झंडी दिखा कर मिशन शक्ति का औपचारिक शुभारंभ किया।

    महिला सम्मान, सुरक्षा और स्वावलंबन की भावना के विस्तार के उद्देश्य वाला यह अभियान शारदीय से बासंतिक नवरात्रि तक (180 दिन) चलेगा। प्रदेश के सभी 75 जिलों, 521 ब्लाकों, 59,000 पंचायतों, 630 शहरी निकायों और 1535 थानों के जरिए महिलाओं एवं बालिकाओं को आत्मनिर्भर बनने का प्रशिक्षण, सुरक्षा एवं सम्मान के प्रति जागरूक किया जाएगा।

    प्रथम चरण में अभियान जागरूकता आधारित होगा, जबकि द्वितीय चरण में मिशन शक्ति के इन्फोर्समेंट पर बल दिया जाएगा। मनचलों, दुराचारियों के विरुद्ध तत्परता के साथ सख्त कार्रवाई की जाएगी। कुल 23 विभाग इस अभियान का हिस्सा होंगें। डिपार्टमेंटल कन्वर्जेन्स मॉडल के माध्यम से अभियान में सहयोग प्रदान करेंगे। स्थानीय स्तर पर सामाजिक संगठन, विभिन्न महिला संगठनों, मीडिया तथा जागरूक समाजसेवियों की एक समिति बनाकर विभिन्न रोल मॉडल का चयन किया जाएगा।

    ऐसी महिलाएं एवं बालिकाएं, जिन्होंने विभिन्न क्षेत्रों जैसे महिला सशक्तिकरण, भ्रूण हत्या रोकने सम्बन्धी अभियान, उद्यमिता, शिक्षा, महिला अपराध रोकने में बेहतर काम किया है, उनका चयन रोल मॉडल के लिए किया जाएगा। हर जिले से 100 रोल मॉडल का चयन किया जाएगा।

    लैंगिक आधारित संवेदीकरण, ध्वनि संदेश, साक्षात्कार, प्रशिक्षण, दुर्गापूजा पण्डालों में कार्यक्रम, थानों पर कार्यक्रम तथा ग्रामीण स्तर पर जागरूकता उत्पन्न किये जाने संबंधी कार्यक्रम आयोजित होंगे।

    पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से महिला सुरक्षा, स्वावलंबन की योजनाओं के प्रचार-प्रसार के साथ-साथ महिला एवं बाल अपराध से जुड़े कड़े कानूनों के बारे में भी लोगों को जागरूक किया जाएगा। महिलाओं में स्वावलम्बी बनने की प्रकिया बढ़ाई जाएगी। विभिन्न विभागों द्वारा विभिन्न स्तरों पर शासन द्वारा महिलाओं एवं बालिकाओं के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं में लाभार्थियों के चयन एवं प्रशिक्षण के कार्यक्रम कराए जाएंगे। शासन के विभिन्न विभागों की योजनाओं की जानकारी प्रदान किए जाने हेतु महिलाओं, बालिकाओं के जागरुकता शिविर आयोजित कर उन्हें इन कार्यक्रमों के लाभों के बारे में अवगत कराया जाएगा।

    विकेटी/एएनएम



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    विज्ञापनों पर केंद्र ने एक साल खर्च किए 713.20 करोड़ रुपये : आरटीआई

    मुंबई, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत सरकार ने वित्त वर्ष 2019-2020 के दौरान विज्ञापनों पर 713.20 करोड़ रुपये खर्च किए, जिसमें सबसे...

    कश्मीर में जिहाद समर्थक सभाएं रोकने को 125 आतंकियों के शव नहीं सौंपे गए

    श्रीनगर, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। आतंकवाद विरोधी अभियानों के दौरान मारे गए लगभग 125 स्थानीय आतंकवादियों को इस साल जम्मू-कश्मीर में उनके...

    जस्टिन लैंगर के खुलासे से निराश है क्रिकेट आसट्रेलिया : रिपोर्ट

    नई दिल्ली, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। आस्ट्रेलियाई पुरुष क्रिकेट टीम के कोच जस्टिन लैंगर ने हाल ही में मीडिया में पूर्व रुल्स...

    कमल नाथ ने चुनाव आयोग के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

    नई दिल्ली, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने प्रदेश में उपचुनाव के लिए अपने स्टार प्रचारक का...

    Recent Comments