Monday, November 30, 2020
More
    Home National जंगलराज के युवराज से अलर्ट रहना है : मोदी

    जंगलराज के युवराज से अलर्ट रहना है : मोदी

    मोतिहारी, 1 नवंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में चुनाव प्रचार के दौरान रविवार को विपक्षी पार्टियों पर जोरदार निशाना साधा। उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि जंगलराज वालों ने अगर बिहार की चिंता की होती तो बिहार विकास की दौड़ में इतना नहीं पिछड़ा होता। उन्होंने लोगों को सावधान करते हुए कहा कि जंगलराज के युवराज से अलर्ट रहना है।

    छपरा में चुनावी सभा को संबोधित करने के बाद प्रधानमंत्री ने समस्तीपुर और मोतिहारी में अलग-अलग चुनावी सभाओं को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने जहां राजग सरकार के विकास कार्यो को गिनाया, वहीं विरोधियों पर जमकर निशाना साधा।

    प्रधानमंत्री ने कहा, महागठबंधन के साथ देश के टुकड़े करने वाले बाराती बनकर जुटे हुए हैं। इनको मौका मिला तो बिहार फिर से जंगलराज के खतरनाक दौर में पहुंच जाएगा। इसके लिए बिहार को सावधान रहना है। जंगलराज के युवराज से सभी को अलर्ट रहना है।

    उन्होंने कहा कि जंगलराज वालों की चिंता अपनी बेनामी संपत्ति छिपाने की है जबकि राजग की चिंता गरीबों को पक्के घर बनाकर देने की है। जंगलराज वालों की चिंता लालटेन जलाने की है जबकि हमारा प्रयास घरों में दूधिया और चमकदार एलईडी पहुंचाने की है।

    उन्होंने कहा, आज बिहार प्रगति के जिस पथ पर है, उसे और मजबूत करना है। राजग के सभी साथी मिलकर अपनी सोच को साकार करने में जुटे हैं।

    प्रधानमंत्री ने कहा कि आज गंगा में सबसे बड़ा पुल बन रहा है, एयरपोर्ट बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि बिहार उस अंधकार को पीछे छोड़ चुका है, प्रकाश और विकास की ओर चल पड़ा है, आत्मनिर्भरता की ओर चल पड़ा है। उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर बिहार, इसके गौरव और समृद्धि को फिर से पाने का कार्यक्रम है।

    प्रधानमंत्री ने महागठबंधन के दलों पर तंज कसते हुए लोगों को सवाधान किया, महागठबंधन के साथ देश के टुकड़े करने वाले बाराती बनकर जुटे हुए हैं। इनको मौका मिला तो बिहार फिर से जंगलराज के खतरनाक दौर में पहुंच जाएगा। इसके लिए बिहार को सावधान रहना है।

    प्रधानमंत्री ने उपस्थित लोगों से पूछा, जंगलराज की विरासत, जंगलराज के युवराज क्या बिहार में उचित माहौल का विश्वास दे सकते हैं? जो वामपंथी, नक्सलवाद को हवा देते हैं, जिनका उद्योगों और फैक्ट्रियों को बंद कराने का इतिहास रहा है, वो निवेश का माहौल बना सकते हैं क्या?

    प्रधानमंत्री ने कहा, जननायक कपर्ूी ठाकुर जी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि सत्ता के आसपास अवसरवादियों को शरण या तरजीह बिल्कुल नहीं मिलनी चाहिए। वरना वह मुझे नहीं तो मेरे बेटे या संबंधियों को भ्रष्ट करेंगे। कपर्ूी ठाकुर जी के बाद, बिहार के लोग इस बात को सच होते देखा है।

    उन्होंने विपक्ष पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अगर कपर्ूी जी की बात इन दलों के लोगों ने सुना होता, तो आज स्थिति ऐसी नहीं होती।

    एमएनपी-एसकेपी



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    जेईई (मेन) घोटाला : असम पुलिस ने दिल्ली में फर्जी उम्मीदवार को किया गिरफ्तार

    गुवाहाटी, 29 नवंबर (आईएएनएस)। असम पुलिस ने रविवार को सर्वाधिक वांछित फर्जी उम्मीदवार प्रदीप कुमार को गिरफ्तार किया, जिसने नील नक्षत्र दास के...

    गुरुग्राम में सड़क दुर्घटनाओं में 2 की मौत

    गुरुग्राम, 29 नवंबर (आईएएनएस)। गुरुग्राम में दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में एक किशोर सहित दो लोगों की मौत हो गई, पुलिस ने रविवार...

    वार्नर के फिट न होने से हमें मदद मिलेगा : राहुल

    सिडनी, 29 नवंबर (आईएएनएस)। भारत के सीमित ओवरों के उपकप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज लोकेश राहुल ने कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि...

    बेहतर लेंथ के साथ गेंदबाजी करना चाहता था : हेनरिक्स

    सिडनी, 29 नवंबर (आईएएनएस)। चोटिल आलराउंडर मार्कस स्टोयनिस की जगह भारत के खिलाफ खेले गए दूसरे वनडे के लिए आस्ट्रेलियाई टीम में शामिल...

    Recent Comments