Monday, November 30, 2020
More
    Home National पंजाब के मुख्यमंत्री ने मालगाड़ियों के निलंबन पर नड्डा को लिखा खुला...

    पंजाब के मुख्यमंत्री ने मालगाड़ियों के निलंबन पर नड्डा को लिखा खुला पत्र

    चंडीगढ़, 1 नवंबर (आईएएनएस)। किसानों द्वारा नाकाबंदी में ढील दिए जाने के बाद भी मालगाड़ियों का परिचालन लगातार निलंबित रखे जाने पर चिंता व्यक्त करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने रविवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा को खुला पत्र लिखा और मसले को सुलझाने के लिए सामूहिक इच्छाशक्ति का आह्वान किया।

    किसानों के विरोध प्रदर्शनों, विशेष रूप से रेलवे द्वारा माल गाड़ियों के निरंतर निलंबन पर और भाजपा के राष्ट्रीय और पंजाब के नेताओं की टिप्पणियों पर तकलीफ के साथ प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा कि यह न राजनीतिक टकराव का समय है और न आरोप-प्रत्यारोप का।

    उन्होंने कहा, इस महत्वपूर्ण क्षण में हम सभी के लिए जरूरी है कि हम अपने राजनीतिक मतभेदों को दरकिनार करें। उन्होंने कहा कि राजनीतिक मतभेदों से उठकर यह राजनीतिज्ञ के रूप में प्रतिक्रिया देने का समय है।

    मालगाड़ियों की सेवाण्ं लगातार बंद रहने के नतीजों का हवाला देते हुए, कि इस कारण न केवल पंजाब, बल्कि जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और लद्दाख को भी भारी कमी का सामना करना पड़ेगा, मुख्यमंत्री ने चेतावनी दी कि सर्दियों की शुरुआत के साथ इससे सैन्य बलों के बुरी तरह प्रभावित होने की आशंका है, क्योंकि एक बार बर्फबारी के दौरान लद्दाख और कश्मीर घाटी की सड़कें अवरुद्ध होने के बाद उन्हें आपूर्ति और अन्य जरूरी चीजों की कमी का सामना करना पड़ सकता है।

    उन्होंने कहा, ये ऐसे खतरे हैं कि न तो केंद्र सरकार और न ही कोई राजनीतिक दल, जिसमें भाजपा भी शामिल है, अनदेखी कर सकते हैं।

    लंबे समय तक नाकेबंदी के कारण पंजाब में हुए नुकसान का जिक्र करते हुए, अमरिंदर सिंह ने कहा कि बिजली, यूरिया और डीएपी स्टॉक की महत्वपूर्ण कमी को देखते हुए, माल गाड़ियों के निरंतर निलंबन का मतलब उद्योग, कृषि और समग्र अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण नुकसान है।

    राष्ट्रीय सुरक्षा पर उन्होंने कहा कि यदि सशस्त्र बल चीन और पाकिस्तान दोनों से बढ़ते आक्रामक खतरों के बीच महत्वपूर्ण आपूर्ति से वंचित रहते हैं, तो देश के लिए स्थिति बेहद खतरनाक हो सकती है।

    मुख्यमंत्री ने किसानों द्वारा नाकाबंदी में ढील देने के बावजूद रेलवे द्वारा मालगाड़ियों की आवाजाही की अनुमति नहीं देने के पीछे का कारण रेलवे द्वारा ट्रेन परिचालन की सुरक्षा और अनिश्चितता बताए जाने पर आश्चर्य व्यक्त किया।

    वीएवी/एसजीके



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    जेईई (मेन) घोटाला : असम पुलिस ने दिल्ली में फर्जी उम्मीदवार को किया गिरफ्तार

    गुवाहाटी, 29 नवंबर (आईएएनएस)। असम पुलिस ने रविवार को सर्वाधिक वांछित फर्जी उम्मीदवार प्रदीप कुमार को गिरफ्तार किया, जिसने नील नक्षत्र दास के...

    गुरुग्राम में सड़क दुर्घटनाओं में 2 की मौत

    गुरुग्राम, 29 नवंबर (आईएएनएस)। गुरुग्राम में दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में एक किशोर सहित दो लोगों की मौत हो गई, पुलिस ने रविवार...

    वार्नर के फिट न होने से हमें मदद मिलेगा : राहुल

    सिडनी, 29 नवंबर (आईएएनएस)। भारत के सीमित ओवरों के उपकप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज लोकेश राहुल ने कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि...

    बेहतर लेंथ के साथ गेंदबाजी करना चाहता था : हेनरिक्स

    सिडनी, 29 नवंबर (आईएएनएस)। चोटिल आलराउंडर मार्कस स्टोयनिस की जगह भारत के खिलाफ खेले गए दूसरे वनडे के लिए आस्ट्रेलियाई टीम में शामिल...

    Recent Comments