Sunday, November 29, 2020
More
    Home National सपा के दलित विरोधी कार्यो के चलते कड़ा रूख अपनाया : मायावती

    सपा के दलित विरोधी कार्यो के चलते कड़ा रूख अपनाया : मायावती

    लखनऊ , 2 नवम्बर (आईएएनएस)। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा है कि कांग्रेस व सपा के लोग उनके बयान की गलत व्याख्या कर भ्रम फैला रहे हैं। यूपी में होने वाले एमएलसी चुनावों में बसपा, सपा को हराने के लिए भाजपा या किसी अन्य पार्टी का समर्थन करेगी। उन्होंने कहा कि हमने सपा के दलित विरोधी कार्यों के खिलाफ कड़ा रुख दिखाने के लिए यह निर्णय लिया है।

    मायावती ने सोमवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में बसपा को भाजपा की बी टीम कहे जाने पर भी सफाई दी। मायावती ने कहा कि हमने भाजपा के साथ किसी भी प्रकार के गठबंधन की बात नहीं कही है। भाजपा के साथ गठबंधन की बात गलत है। उन्होंने कहा, मेरे बयान को गलत प्रचारित किया गया। बसपा की सिर्फ भाजपा के साथ की बात गलत है। हमने कहा था कि समाजवादी पार्टी को हराने वाले किसी भी दल का साथ देंगे। सपा को हराने के लिए भाजपा या किसी भी अन्य दल को समर्थन देंगे।

    उन्होंने कहा कि बसपा की विचारधारा सर्वधर्म हिताय सर्वधर्म सुखाय की है। इसी कारण हमने बीते लोकसभा के साथ ही विधानसभा उप चुनाव में भी सभी वर्ग के लोगों के साथ मुस्लिमों को टिकट दिया है।

    उन्होंने कहा कि हमने यह फैसला सपा की दलित विरोधी मानसिकता को देखते हुए लिया। मायावती ने कहा कि जब-जब बसपा ने भाजपा का साथ दिया, भाजपा का नुकसान हुआ लेकिन जब-जब सपा सत्ता में आई भाजपा को लाभ हुआ। बसपा सरकार में उत्तर प्रदेश में एक भी हिंदू-मुस्लिम दंगा नहीं हुआ जबकि सपा व कांग्रेस राज ऐसी घटनाओं से भरा पड़ा है जिसमें जनता को जानमाल का काफी नुकसान उठाना पड़ा। उन्होंने कहा कि बसपा का भाजपा से कोई गठजोड़ नहीं है।

    ज्ञात हो कि राज्यसभा चुनाव में प्रत्याशी के नामांकन भरने के बाद बसपा के सात विधायक सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से मिलने चले गए थे जिससे नाराज बसपा ने विधायकों को निलंबित कर दिया और सपा पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया।

    इस पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था कि राज्यसभा चुनाव में निर्दलीय प्रकाश बजाज को समर्थन देकर उन्होंने भाजपा-बसपा की साठगांठ की पोल खोल दी। उन्होंने मायावती का नाम लिए बिना कहा कि जो लोग भाजपा से मिले हुए हैं उनका पर्दाफोश जरूरी था।

    विकेटी-एसकेपी



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    दुबई में लापता हुआ भारतीय व्यक्ति सकुशल मिला

    दुबई, 29 नवंबर (आईएएनएस)। पर्यटन वीजा पर दुबई पहुंचने के एक दिन बाद 9 नवंबर से ही लापता एक भारतीय व्यक्ति का शहर...

    सैन्य नेतृत्व ने किसी भी मामले में कभी दबाव नहीं डाला : इमरान खान

    इस्लामाबाद, 29 नवंबर (आईएएनएस)। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि विदेश नीति सहित किसी भी मामले में देश के सैन्य...

    दुती, इरफान सहित 8 एथलीट टॉप्स कोर ग्रुप में शामिल

    नई दिल्ली, 29 नवंबर (आईएएनएस)। दुती चंद और के.टी इरफान सहित आठ ट्रैक एंड फील्ड एथलीटों को टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम (टॉप्स) के...

    अफगान आत्मघाती बम विस्फोट में 30 की मौत, 24 घायल (लीड-1)

    काबुल, 29 नवंबर (आईएएनएस)। अफगानिस्तान के गजनी प्रांत में रविवार को एक सैन्य शिविर में हुए आत्मघाती कार बम विस्फोट में कम से...

    Recent Comments