Tuesday, November 24, 2020
More
    Home National बिनीश के घर चली 26 घंटे तक छापेमारी, परिवार ने लगाया यातना...

    बिनीश के घर चली 26 घंटे तक छापेमारी, परिवार ने लगाया यातना का आरोप

    तिरुवनंतपुरम, 5 नवंबर (आईएएनएस)। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को केरल सीपीआई-एम के सचिव कोडियरी बालाकृष्णन के बेटे बिनीश कोडियरी के घर पर 26 घंटे तक चली छापेमारी की कार्रवाई खत्म कर दी।

    बिनीश केरल सीपीआई-एम के सचिव कोडियरी बालाकृष्णन के बेटे हैं और पूरा परिवार इसी घर में एक साथ रहता है। हालांकि छापे के समय बालाकृष्णन घर में नहीं थे। 2 महिलाओं सहित कुछ रिश्तेदारों ने कहा कि वे घर के अंदर आकर परिवार से मिलना चाहते हैं क्योंकि बुधवार को छापेमारी शुरू होने के बाद से परिवारजन घर से बाहर नहीं निकले थे।

    बालाकृष्णन की पत्नी की बहन होने का दावा करने वाली एक महिला ने मीडिया को बताया, छापेमारी को 24 घंटे से ज्यादा हो चुके हैं। हम उन्हें खाना भेज रहे हैं और जानना चाहते हैं कि उन लोगों ने खाना खाया या नहीं या ईडी टीम ने वह खाना खाया। उस समय घर में बिनीश की पत्नी, उसका 3 साल का बच्चा और उसके माता-पिता थे।

    हंगामे के बाद केरल पुलिस के शीर्ष अधिकारी मौके पर पहुंचे और ईडी अधिकारियों के साथ बातचीत के बाद बाहर आकर रिश्तेदारों से कहा कि घर के अंदर के लोगों ने कहा है कि वे किसी से नहीं मिलना चाहते हैं। प्रदर्शनकारियों के जाने से इनकार करने पर बिनीश की सास ने बाहर आकर मीडिया से कहा, ईडी को छापेमारी में कुछ भी नहीं मिला है और टीम बार-बार खाने के लिए ब्रेक ले रही है, हम मानसिक यातना झेल रहे हैं।

    रात भर चली छापेमारी के दौरान घर पर सीआरपीएफ और कर्नाटक के कुछ पुलिस अधिकारी रहे। छापेमारी पूरी करके बाहर निकले ईडी के अधिकारियों को स्थानीय पुलिस ने रोका और कहा कि बिनीश के परिवार ने शिकायत की है कि उन्हें जबरन बंद करके रखा गया। ईडी के अधिकारियों ने कहा कि वे अपने कार्यालय पहुंचने के बाद विस्तृत विवरण देंगे।

    बिनेश की पत्नी ने भी आरोप लगाते हुए कहा कि ईडी के अधिकारी उन्हें एक कागज पर हस्ताक्षर करने के लिए मजबूर कर रहे थे जिसमें कहा गया था कि उन्हें अनूप मोहम्मद का क्रेडिट कार्ड मिला है।

    अनूप बिनीश के करीबी दोस्त और कारोबारी सहयोगी हैं। अभी वह नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो द्वारा गिरफ्तारी के बाद न्यायिक हिरासत में हैं।

    इस बीच बिनीश के तीन साल के बच्चे के यातना में रहने की जानकारी मिलने के बाद केरल राज्य बाल अधिकार आयोग के अधिकारी भी बिनीश के घर पहुंच गए। आयोग के अध्यक्ष ने कहा, हम इस मुद्दे पर गौर करेंगे, हम बच्चों के अधिकारों का हनन नहीं होने देंगे।

    इस बीच केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने पार्टी मुख्यालय में बालाकृष्णन से मुलाकात की। बाद में पार्टी की बैठक भी हुई।

    बिनीश धन शोधन निवारण अधिनियम (मनी लौंडरिंग एक्ट) के आरोपों के तहत गिरफ्तार हो चुके हैं और शनिवार तक ईडी की हिरासत में है।

    एसडीजे-एसकेपी



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    Conversation on corona: कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित आठ राज्यों के CM के साथ PM मोदी की अहम बैठक आज

    डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और...

    दलित हत्या का मामला : गुजरात को जवाब दाखिल करने का सुप्रीम मौका

    नई दिल्ली, 24 नवंबर (आईएएनएस)। सर्वोच्च न्यायालय ने सोमवार को गुजरात सरकार को एक दलित व्यक्ति की हत्या के मामले में एक आरोपी...

    द्रमुक ने तमिलनाडु के सीएम को गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी

    चेन्नई, 23 नवंबर (आईएएनएस)। तमिलनाडु की मुख्य विपक्षी पार्टी द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) ने सोमवार को राज्य की पुलिस और मुख्यमंत्री के. पालानीस्वामी...

    ट्रेनों को रोकने का यूनियन का फैसला किसान हितों के खिलाफ : अमरिंदर

    चंडीगढ़, 23 नवंबर (आईएएनएस)। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने एक किसान यूनियन के उस फैसले पर गंभीर चिंता व्यक्त की है, जिसमें...

    Recent Comments