Wednesday, December 2, 2020
More
    Home National संघ ने कोरोना काल में सदस्यों के जरिए पूरे परिवार को जोड़ा

    संघ ने कोरोना काल में सदस्यों के जरिए पूरे परिवार को जोड़ा

    भोपाल 5 नवंबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में राष्टीय स्वयं सेवक संघ के सरसंघचालक मोहनराव भागवत की मौजूदगी में मध्य क्षेत्र के कार्यकारी मंडल की बैठक शुरू हुई। इस बैठक में बताया गया कि कोरोना काल में संघ के कार्य का विस्तार हुआ है और संघ सदस्य के परिवार तक पहुंचा क्योंकि परिवार शाखाओं पर जोर रहा।

    संघ प्रमुख भागवत बुधवार की रात को भोपाल पहुंचे थे, वे यहां दो दिवसीय मध्य क्षेत्र के कार्यकारी मंडल की बैठक में मार्गदर्शन देने आए हैं। कोरोना के तमाम दिशा निर्देशों का पालन करते हुए बैठक शुरू हुई। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया, तापमान लिया गया और सैनिटाइजर की व्यवस्था रही।

    बैठक में अधिकारियों ने बताया कि कोरोना काल में संघ की पारंपरिक शाखाएं लगा पाना संभव नहीं था, इसीलिए उसके स्थान पर परिवार शाखाएं प्रारंभ की गईं। इन शाखाओं के माध्यम से जहां संघ का विचार परिवार के सभी सदस्यों तक पहुंचा। वहीं शाखाओं की संख्या भी बढ़ी है, परिवार शाखाओं में योग एवं प्राणायाम का नियमित अभ्यास किया गया, जिसका प्रत्यक्ष लाभ परिवार के सदस्यों को मिला, जिससे उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में भी वृद्धि हुई।

    कोरोना काल के अपने अनुभवों को साझा करते हुए संघ पदाधिकारियों ने बताया कि संघ की इन कुटुंब शाखाओं के कारण परिवार के सदस्यों में संवाद बढ़ा एवं राष्ट्र हित की भावना जागृत करने छोटी-छोटी कहानियों के माध्यम से भारतीय विचार को परिवारों में पहुंचाया। इन प्रयासों से स्वदेशी एवं आत्मनिर्भर भारत का विचार परिवार तक पहुंचा एवं सामूहिक भोजन, संध्या प्रणाम, सामूहिक व्याख्यान जैसी कई पुरानी पारिवारिक परंपराएं पुर्नजीवित हुई।

    इतना ही नहीं बैठक में बताया गया कि संघ ने परिवारों से बाल गोकुलम के माध्यम से अपने पड़ोस में रह रहे ऐसे बच्चों को शिक्षा देने का आहवान किया था जो लॉकडाउन के कारण अपनी पढ़ाई प्रारंभ नहीं कर पा रहे थे, ऐसे कई परिवारों को अभियान से जोड़ा गया, जिससे उन्होंने अपने आस पड़ोस के बच्चों को शिक्षित एवं संस्कारवान बनाने की व्यवस्था बनाई।

    इसके साथ ही कोरोना के कारण संघ ने दशहरे के मौके पर शस्त्र पूजन और पथ संचलन के कार्यक्रम को स्थगित कर सामूहिक कार्यक्रम नहीं किया, बल्कि छोटे-छोटे समूह में कार्यक्रम हुए। वहीं कार्यकर्ताओं को ऑनलाइन के जरिए प्रशिक्षण भी दिया गया।

    स्ांघ के मध्य भारत के प्रांत प्रचार प्रमुख ओम प्रकाश सिसौदिया ने बताया है कि सरसंघचालक मोहन भागवत सात नवंबर तक भोपाल प्रवास पर रहेंगे। संघ के पूरे देश में 11 क्षेत्र हैं, जिनमें से एक मध्य क्षेत्र भी है, जिसकी बैठक पांच और छह नवंबर को भोपाल में हो रही है। इस बैठक में संघ के मध्यक्षेत्र (मध्यभारत , मालवा , महाकौशल और छत्तीसगढ़ ) की प्रान्त टोली, क्षेत्र टोली और मध्य क्षेत्र में रहने वाले केंद्रीय अधिकारी हिस्सा ले रहे हैं। संघ की हर साल अखिल भारतीय स्तर पर कार्यकारी मंडल की बैठक आयोजित की जाती थी, किंतु इस बार कोरोना महामारी के चलते यह बैठक क्षेत्रवार आयोजित की जा रही है।

    एसएनपी/एएनएम



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    राज्यपाल ने राजस्थान सरकार की ओर से पारित 3 कृषि विधेयकों पर लगाई रोक

    जयपुर, 2 दिसंबर (आईएएनएस)। राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने केंद्रीय कृषि कानूनों को दरकिनार करने के लिए राजस्थान सरकार की ओर से...

    भारत ने वार्नर की गैर मौजूदगी का फायदा उठाया : ठाकुर

    कैनबरा, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)। भारतीय तेज गेंदबाज शार्दूल ठाकुर ने कहा है कि उनकी टीम ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए तीसरे वनडे...

    किसानों ने सरकार से कहा, कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए विशेष संसद सत्र बुलाएं

    नई दिल्ली, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)। आंदोलनकारी किसानों ने बुधवार को केंद्र सरकार से पांच दिसंबर को देशव्यापी विरोध प्रदर्शन की चेतावनी देने के...

    कस्टम ड्यूटी भुगतान के बाद भारतीय शतरंज टीम को मिला स्वर्ण पदक

    चेन्नई, 2 दिसंबर (आईएएनएस)। कस्टम ड्यूटी का भुगतान करने के बाद आखिरकार भारतीय शतरंज टीम को स्वर्ण पदक मिल गया है। टीम ने...

    Recent Comments