Tuesday, November 24, 2020
More
    Home Politics बाइडेन ने कहा अब मरहम लगाने का वक्त, अमेरिका के खिलाफ दांव...

    बाइडेन ने कहा अब मरहम लगाने का वक्त, अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने वालों को दी चेतावनी

    न्यूयॉर्क, 8 नवंबर (आईएएनएस)। अमेरिकी राष्ट्रपति चुने गए जो बाइडेन ने कठोर बयानबाजी वाले कैंपेन के बाद कहा है कि अब मरहम लगाने का वक्त है, साथ ही उन लोगों को चेतावनी दी है जो अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

    मीडिया द्वारा 2020 के राष्ट्रपति पद की दौड़ का विजेता घोषित किए जाने के बाद शनिवार की रात डेलावेयर में अपने विजय भाषण में बाइडेन ने कहा, हम उस काम को करेंगे जो भगवान और इतिहास ने हमें करने का मौका दिया है।

    बाइडेन ने भाषण में घरेलू मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किया, खासकर देश को एक साथ लाने और उसे कोविड-19 संकट से बाहर निकाले की बात की। दुनिया से जुड़े मुद्दों की बात करें तो उन्होंने अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने वालों को चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि उनका काम अमेरिका को फिर से दुनिया भर में सम्मान दिलाने का है।

    उन्होंने कहा, आज की रात पूरी दुनिया अमेरिका को देख रही है। वह पूरी दुनिया के लिए एक रोशनी की तरह है। हम अपनी शक्ति के उदाहरण से नहीं बल्कि अपने उदाहरण की शक्ति से आगे बढ़ेंगे। यह एक महान राष्ट्र है और हम अच्छे लोग हैं। अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने वालों के लिए यह हमेशा बुरा रहा है।

    अपने कैंपेन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर महामारी का दुरुपयोग करने का आरोप लगाने वाले बाइडेन ने कहा, मैं इस महामारी को खत्म करने के लिए कोई प्रयास नहीं छोड़ूंगा। उन्होंने घोषणा की कि वह 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद वह अपनी और कमला हैरिस की योजना के आधार पर प्रोग्राम बनाने के लिए प्रमुख वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों का एक पैनल नियुक्त करेंगे।

    ट्रंप समर्थकों से बाइडेन ने कहा, जिन्होंने राष्ट्रपति ट्रंप के लिए मतदान किया था, मैं आज रात उनकी निराशा को समझता हूं। मैंने खुद भी कुछ चुनाव हारे हैं। साथ ही अपील की कि वे कठोर बयानबाजी को खत्म करें। उन्होंने कहा कि वो रेड और ब्लू राज्य नहीं देखते बल्कि एक संयुक्त राज्य के तौर पर देखते हैं। मैंने चुनाव में हिस्सा डेमोक्रेट के तौर पर लिया था लेकिन अब मैं अमेरिका का राष्ट्रपति बनूंगा और उनके लिए भी कड़ी मेहनत करूंगा, जिन्होंने मुझे वोट नहीं दिया।

    रिपब्लिकन द्वारा सीनेट को नियंत्रित करने की संभावना पर बाइडेन ने कहा, डेमोक्रेट और रिपब्लिकन का एक दूसरे के साथ सहयोग करने से इनकार करना हमारे नियंत्रण से परे किसी रहस्यमयी ताकत के कारण नहीं है। यह एक निर्णय है। यदि हम सहयोग न करने का फैसला कर सकते हैं तो सहयोग करने का फैसला भी कर सकते हैं।

    एसडीजे-एसकेपी



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    दलित हत्या का मामला : गुजरात को जवाब दाखिल करने का सुप्रीम मौका

    नई दिल्ली, 24 नवंबर (आईएएनएस)। सर्वोच्च न्यायालय ने सोमवार को गुजरात सरकार को एक दलित व्यक्ति की हत्या के मामले में एक आरोपी...

    द्रमुक ने तमिलनाडु के सीएम को गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी

    चेन्नई, 23 नवंबर (आईएएनएस)। तमिलनाडु की मुख्य विपक्षी पार्टी द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) ने सोमवार को राज्य की पुलिस और मुख्यमंत्री के. पालानीस्वामी...

    ट्रेनों को रोकने का यूनियन का फैसला किसान हितों के खिलाफ : अमरिंदर

    चंडीगढ़, 23 नवंबर (आईएएनएस)। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने एक किसान यूनियन के उस फैसले पर गंभीर चिंता व्यक्त की है, जिसमें...

    डॉक्टर और 2 अन्य के खिलाफ अवैध रूप से बच्चा गोद लेने का मामला दर्ज

    गुरुग्राम, 23 नवंबर (आईएएनएस)। साइबर सिटी गुरुग्राम के सेक्टर 56 में एक निजी क्लिनिक चलाने वाले एक डॉक्टर और एक दंपति के खिलाफ...

    Recent Comments