Friday, January 22, 2021
More
    Home Bollywood Kangana Ranaut's petition: बॉम्बे HC कंगना के बंगले में तोड़फोड़ केस में...

    Kangana Ranaut’s petition: बॉम्बे HC कंगना के बंगले में तोड़फोड़ केस में 27 को सुनाएगा फैसला

    डिजिटल डेस्क, मुंबई। बॉम्बे हाई कोर्ट 27 नवंबर को बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के मुंबई स्थित ऑफिस में बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ लगाई गई याचिका पर अपना फैसला सुनाएगी। जस्टिस एस जे कथावाला और जस्टिस आर आई चागला की बेंच ने पिछले महीने 5 अक्टूबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। बता दें कि कंगना रनौत के वकील वीरेंद्र सराफ ने याचिका में आरोप लगाया था कि बीएमसी ने उनके बंगले पर तोड़फोड़ की कार्रवाई दुर्भावनावश की है। उनका कहना था कि कंगना ने मुंबई पुलिस के खिलाफ कमेंट किया था, जिसके बाद महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार ने उनके खिलाफ यह कार्रवाई की। एक्ट्रेस ने अदालत से आग्रह किया है कि उनकी बिल्डिंग के एक हिस्से को गिराए जाने की कार्रवाई को अवैध करार देते हुए बीएमसी को उन्हें हर्जाने के रूप में 2 करोड़ रुपए देने के निर्देश दिए जाएं।

    BMC ने कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ की
    बीएमसी ने कंगना के मुंबई पहुंचने से पहले 9 सितंबर को बांद्रा वेस्ट के पाली हिल रोड पर स्थित कंगना रनौत के 48 करोड़ के दफ्तर (मणिकर्णिका फिल्म्ज़) के कथित अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया। बीएमसी के एक सीनियर अधिकारी ने कहा, हमने कंगना को 24 घंटे का समय दिया था, लेकिन उनकी तरफ से कोई जवाब नहीं आया। कंगना ने बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी जिस पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने उद्धव सरकार को फटकार लगाई और तोड़फोड़ पर रोक लगा दी।

    क्या है पूरा मामला?
    कंगना रनौत और शिवसेना के नेताओं के बीच शुरू हुआ ट्वीट वॉर ओछी राजनीति तक पहुंच गया था। ये विवाद उस वक्त शुरू हुआ था जब कंगना रनौत ने कहा था कि उन्हें बॉलिवुड के ड्रग लिंक के बारे में काफी कुछ पता है। वह नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की मदद करना चाहती हैं लेकिन उन्हें सुरक्षा चाहिए। अभिनेत्री ने कहा था कि उन्हें फिल्म माफिया से ज्यादा शहर की पुलिस से डर लगता है। इसके जवाब में संजय राउत ने ‘सामना’ में लिखा था, मुंबई में रहते हुए कंगना का ऐसा कहना शर्मनाक है। राउत ने कहा था, हम उनसे रिक्वेस्ट करते हैं कि कृपया मुंबई न आएं। 

    संजय  राउत की खुली धमकी
    इसके बाद कगंना ने एक और ट्वीट करते हुए कहा कि शिवसेना नेता संजय राउत ने मुझे खुली धमकी दी है और मुंबई वापस न आने के लिए कहा है। पहले मुंबई की सड़कों पर आजादी के नारे लगे और अब खुली धमकी मिल रही है। आखिर मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) जैसा क्यों महसूस कर रही है?’ कंगना ने एक और ट्वीट कर कहा था, 9 सितंबर को मुंबई आ रही हूं। किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले।’ इस विवाद के दौरान शिवसेना सांसद संजय राउत ने कंगना को हरामकोर लड़की तक कह दिया था। विवाद के चलते केंद्र ने कंगना को Y सिक्योरिटी भी दी थी।





    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    Recent Comments