Monday, January 18, 2021
More
    Home National स्वास्थ्य मंत्री का गौतमबुद्धनगर दौरा, अस्पताल का किया निरीक्षण

    स्वास्थ्य मंत्री का गौतमबुद्धनगर दौरा, अस्पताल का किया निरीक्षण

    गौतमबुद्धनगर, 25 नवंबर (आईएएनएस)। गौतमबुद्धनगर जिले के सभी नागरिकों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित बनाने एवं संक्रमित व्यक्तियों को निर्धारित समय पर प्रोटोकॉल के अनुरूप इलाज संभव कराने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने बुधवार को जिले का व्यापक स्तर पर भ्रमण किया गया। उन्होंने अपने भ्रमण कार्यक्रम के दौरान सर्वप्रथम सेक्टर 39 में संचालित कोविड अस्पताल का स्थलीय निरीक्षण किया, जहां पर उन्होंने भर्ती मरीजों के साथ बातचीत की।

    इसके बाद स्वास्थ्य मंत्री जिला संयुक्त चिकित्सालय पहुंचे जहां पर उन्होंने डायलिसिस मशीन का विधिवत रूप से शुभारंभ किया। जिला चिकित्सालय में 3 बेड पर डायलिसिस मशीन स्थापित की गई हैं। जिला चिकित्सालय में यह मशीनें 8 बेड पर संचालित की जाएंगी, जिसे उन्होंने तत्काल शुरू करने के निर्देश दिए हैं।

    जिला चिकित्सालय का स्थल निरीक्षण एवं मशीनों का शुभारंभ करने के बाद उन्होंने सेक्टर 59 का स्थल निरीक्षण किया। जहां पर कोविड-19 को लेकर जिला प्रशासन के द्वारा एकीकृत कंट्रोल रूम का संचालन किया जा रहा है। इसके बाद उन्होंने होम आइसोलेशन के मरीजों से भी बातचीत की।

    स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने इस दौरान बताया, कोविड-19 महामारी को लेकर जिले में प्रशासन पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग तथा अन्य संबंधित विभागीय अधिकारियों के द्वारा सख्त कार्रवाई करते हुए अच्छा कार्य किया जा रहा है। जिसके परिणाम स्पष्ट रूप से जिले में नजर आ रहे हैं। जिले में प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा कोविड-19 को लेकर गहन जांच की जा रही है, जिससे सभी संक्रमित व्यक्तियों को समय पर इलाज उपलब्ध कराने की कार्रवाई स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मानकों के अनुसार सुनिश्चित की जा रही है।

    उन्होंने जिले के प्रशासनिक स्वास्थ्य विभाग पुलिस एवं अन्य विभागीय अधिकारियों के कार्य पर संतोष प्रकट किया और सभी अधिकारियों का आह्वान किया कि आगे भी जिला प्रशासन पुलिस स्वास्थ्य विभाग तथा अन्य संबंधित विभागीय अधिकारी गण इसी टीम भावना के साथ कार्य करते रहें ताकि कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों का उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप इलाज संभव हो सके।

    एमएसके/एएनएम



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    Recent Comments