Monday, January 18, 2021
More
    Home Politics बाइडेन की बजट प्रमुख के रूप में नामित टंडन ने संघर्ष को...

    बाइडेन की बजट प्रमुख के रूप में नामित टंडन ने संघर्ष को याद किया

    न्यूयॉर्क, 2 दिसम्बर (आईएएनएस)। अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन की ओर से बजट प्रमुख के रूप में नामित नीरा टंडन की परवरिश भी लगभग कमला हैरिस जैसी ही हुई है। दोनो की मां ने बतौर सिंगल इन्हें पाल पोष कर बड़ा किया, जो भारत से आई थीं और अपने दृढ़ संकल्प से बेटियों को प्रतिष्ठित पदों तक पहुंचा दिया।

    बाइडेन द्वारा विलमिंगटन में नीरा टंडन को ऑफिस मैनेजमेंट और बजट की निदेशक के रूप में नामित किए जाने के बाद मंगलवार को टंडन ने कहा, निर्वाचित उपराष्ट्रपति (कमला हैरिस) की मां श्यामला की तरह मेरी मां माया भारत में जन्मीं। लाखों लोगों की तरह, वह बेहतर जीवन की चाह में अमेरिका आईं।

    बजट प्रमुख का पद एक प्रभावशाली और प्रतिष्ठित पद है। लगभग 5 खरब के बजट को तैयार करना, देखरेख करना कई एजेंसियों के प्रबंधन को देखने और कांग्रेस के साथ काम करने की जिम्मेदारी होगी।

    टंडन जब पांच साल की थी तब उनके माता-पिता का तलाक हो गया और कमला जब सात साल की थीं तब उनके माता-पिता का तलाक हुआ था।

    टंडन मध्य वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखती है लेकिन उनकी मां के दृढ़ संकल्प और अमेरिकी उदारता ने उन्हें प्रभावशाली पद तक पहुंचा दिया।

    उन्होंने कहा, मैं आज यहां इस मुकाम पर हूं, मां के साहस को आभार लेकिन एक ऐसे देश को भी धन्यवाद, जिसने हम पर भरोसा किया, जिसने उनकी (मां की) मानवता और हमारे सपनों में इंवेस्ट किया।

    नीरा टंडन ने कहा, मेरी मां अपने दो बच्चों के साथ अकेली रह गई थी और बिना नौकरी के। उन्हें एक विकल्प का सामना करना पड़ा -भारत लौटने का। जहां उस समय तलाकशुदा महिला को सम्मान की नजर से नहीं देखा जाता था और अवसर सीमित हो जाते थे – या फिर उनके पास दूसरा विकल्प अमेरिका में रहकर सपनों को पूरा करने का था। वह रुक गई और कई बार मुश्किल घड़ी में अमेरिका ने उनका साथ दिया।

    टंडन ने गरीबों के लिए सार्वजनिक कार्यक्रमों पर उनकी निर्भरता के बारे में खुलकर बात की, मुफ्त भोजन के लिए सरकार की ओर से वाउचर-फूड स्टैंप और सरकार की ओर से रेंट में सब्सिडी के लिए उपलब्ध कराया जाने वाला सेक्शन 8 वाउचर उनके लिए बड़ा सहारा बना।

    उन्होंने कहा, हमने अपने पैरों पर वापस खड़ा होने के लिए सोशल सेफ्टी नेट पर भरोसा किया।

    अपनी मां के संघर्ष के बारे में, उन्होंने कहा कि इस देश ने उन्हें मध्यम वर्ग तक पहुंचने में उचित रूप से मदद की। उन्हें ट्रैवल एजेंट के रूप में नौकरी मिली, और वह बेडफोर्ड, मैसाचुसेट्स में घर खरीद सकीं और बच्चों को कॉलेज जाते देख सकीं।

    नीरा टंडन ने कहा कि मैं आज यहां सामाजिक कार्यक्रमों की वजह से हूं। बजटीय विकल्पों के कारण। सरकार ने मेरी मां की गरिमा को देखा और उन्हे मौका दिया, जिसकी बदौलत मैं यहां हूं।

    उन्होंने कहा कि अमेरिकियों के जीवन स्तर को और ऊपर उठाने के लिए बजट कार्यक्रमों को आकार देना उनके लिए सम्मान की बात होगी।

    वीएवी-एसकेपी



    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    Recent Comments