32.1 C
New Delhi
Tuesday, August 3, 2021

पत्रकारों से मारमीट मामले में अखिलेश यादव पर दर्ज केस की जांच शुरू, मीडियाकर्मियों को नोटिस जारी

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img


Highlights

– अखिलेश यादव की प्रेसवार्ता में पत्रकारों से मारपीट का मामला

– पुलिस ने दो मीडियाकर्मियों के घर चस्पा किए नोटिस

– पत्रकार बोले- दूसरे पक्ष को भी बुलाया जाए

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मुरादाबाद. मीडियाकर्मियों से मारपीट के मामले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के खिलाफ दर्ज मुकदमे में जांच शुरू हो गई है। पाकबड़ा थाना पुलिस ने घटना की सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद पहले केस के वादी के साथ दो मीडियाकर्मियों को बयान दर्ज करवान के लिए नोटिस जारी किया है। पुलिस ने ये नोटिस मीडियाकर्मियों के घरों के बाहर चस्पा किए हैं।

यह भी पढ़ें- अखिलेश यादव समेत 20 सपाइयों पर मुकदमा दर्ज, सपा नेता ने कहा- पूरे प्रदेश की जेलें भर दी जाएंगी

गौरतलब हो कि 11 मार्च को समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुरादाबाद के एक होटल में प्रेस कांफ्रेंस की थी। उस दौरान हंगामे के बाद मीडियाकर्मियों से धक्का-मुक्की और मारपीट हुई थी। इस मामले में पहला मुकदमा आईपीएए (Indian Press Aliveness Association) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अवधेश पाराशर की तरफ से दर्ज कराया गया था, जिसमें उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के अलावा 20 अज्ञातों के आरोपी बनाया था। इन पर मीडियाकर्मियों को बंधक बनाकर पीटने का आरोप लगाया गया था।

वहीं, दूसरा मुकदमा समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष जयवीर सिंह यादव की तरफ से दर्ज कराया गया था, जिसमें मीडियाकर्मी उवैदुरर्हमान और फरीद शम्सी के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इस मामले में मंगलवार को थाना पाकबड़ा पुलिस ने पहले केस के वादी के साथ दो पत्रकारों को बयान दर्ज कराने के लिए नोटिस जारी किया गया है।

मामले की विवेचना कर रहे पुलिस अधिकारी ने पत्रकारों के घरों के बाहर नोटिस चस्पा कराए हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगों के संबंध में जानकारी एकत्रित कर रही है। वहीं, इस मामले पत्रकारों का पक्ष है कि जब दोनों पक्षों की ओर से केस दर्ज कराया गया है तो दूसरे पक्ष को भी बयान दर्ज करवाने के लिए बुलाना चाहिए। जबकि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी ने बताया कि दोनों मुकदमों में जांच की जा रही है। इसी कड़ी में बयान दर्ज कराए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें- अखिलेश यादव की प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों से मारपीट, BJP बोली- सत्ता से बाहर हैं तब भी इतनी गुंडई





Source link

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here