31.1 C
New Delhi
Tuesday, August 3, 2021

नाबालिग को बंधक बनाकर मां-बाप के सामने आठ लोगों ने किया गैंगरेप, बहन से लिया भाई के ‘कारनामे’ का बदला

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img


मामला मुरादाबाद के थाना छजलैट इलाके का है। भाई लड़की लेकर हुआ फरार तो नाबालिक से लिया बदला। पीड़िता से जबरन शादी करने का भी आरोप।

मुरादाबाद। मुरादाबाद के थाना छजलैट इलाके में शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। जिसमें आठ लोगों ने मां-बाप के सामने ही नाबालिग से गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया है। इतना ही नहीं, आरोप है कि पीड़िता तो आरोपियों द्वारा कई दिनों तक बंधक बनाकर रखा गया है। पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि यह गैंगरेप आरोपियों ने बदला लेने के लिए किया है। कारण, आरोपियों के परिवार के लड़की को लेकर पीड़िता का भाई लेकर भाग गया था। दोनों परिवार बरेली के एक गांव के रहने वाले हैं।

यह भी पढ़ें: वैक्सीन लगवाने के बाद ठीक हुआ लकवाग्रस्त हाथ, डॉक्टर ने कहा वैक्सीन से बढ़ती है प्रतिरोधक क्षमता

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक घर छोड़कर गई लड़की के पिता, भाई और कई चाचाओं ने मिलकर नाबालिग से बलात्कार किया। आरोप है कि 29 जून को नाबालिग के माता-पिता को चेतावनी दी गई कि अगर उन्होंने पुलिस से शिकायत की तो वह उनकी बेटी को मार देंगे। साथ ही नाबालिग को कई दिनों तक बंधक बनाकर रखा गया और उसे 4 जुलाई को ही रिहा किया गया।

उधर, मामले में एएसपी (ग्रामीण) विद्या सागर मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि लड़की ने अपने साथ हुई आपबीती को बयां करते हुए पुलिस में तहरीर दी है। जिसके आधार पर एफ़आईआर दर्ज की गई। दोनों ही परिवार एक-दूसरे को कई वर्षों से जानते हैं। पीड़िता का बड़ा भाई घटना के अभियुक्त की बेटी के साथ घर से भाग गया था, तभी से दोनों परिवारों के लोगों के बीच बातचीत खराब हो गई। मामले की निष्पक्ष ढंग से जांच की जा रही है। साथ ही नामजद अभियुक्तों की तलाश में पुलिस की कई टीमें दबिश दे रही हैं। इनके अलावा घर से भागे प्रेमी युगल को भी खोज रहे हैं।

यह भी पढ़ें: सांसद अजय मिश्रा टेनी बनेंगे मंत्री, दिलचस्प रहा है सियासी सफर

27 जून को लड़की लेकर भागा था युवक

रिपोर्ट के मुताबिक नाबालिग के पिता ने बताया कि उनका बेटा 27 जून को अभियुक्त की बेटी के साथ कहीं चला गया था। जिसके बाद अगले दिन अभियुक्त कुछ लोगों के साथ उनके घर आया और मुरादाबाद में अमरोहा रेलवे स्टेशन के नज़दीक एक घर में मुझे, मेरी पत्नी और बेटी को जबरदस्ती यह कहकर ले गया कि उन लोगों को उनके बेटे की तलाश करने के लिए ले जाया जा रहा है। आरोप है कि अमरोहा में उन तीनों को बुरी तरह पीटा गया और उनके सामने ही उनकी नाबलिग बेटी से बलात्कार किया गया। आरोप है कि इसके बाद एक अभियुक्त ने उनकी बेटी से शादी कर ली और बेटी को अपने पास ही रखकर हमें वहां से भगा दिया। उन्होंने 29 जून को पुलिस में शिकायत भी दी, आरोप है कि शुरुआत में पुलिस ने कुछ नहीं किया। बाद में जब बेटी घर लौटी तो पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म सहित पॉक्सो एक्ट की धाराओं में मुक़दमा दर्ज़ किया।





Source link

- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here