Tuesday, April 20, 2021
More
    Home Blog

    कोरोना: देश में बीते 24 घंटों में 2.56 लाख नए संक्रमित मिले, 1757 लोगों की मौत, जानें राज्यों का हाल

    0

    डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं। देश में सोमवार को लगातार पांचवें दिन 2 लाख से ज्यादा नए मरीज सामने आए हैं। देश में बीते 24 घंटों के भीतर 2 लाख 56 हजार 828 लोग संक्रमित हुए हैं। 1757 लोगों ने जान गंवाई है, जबकि 1,54,234 लोग ठीक भी हुए हैं। वहीं, एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 20 लाख 24 हजार 629 पहुंच गया।

    वहीं, महाराष्ट्र में लॉकडाउन का असर दिखने लगा है। रविवार के मुकाबले सोमवार को 10 हजार कम संक्रमित मिले हैं। राज्य में आज 58,924 मरीज सामने आए। 52,412 मरीज ठीक हुए और 351 की मौत हो गई। रविवार को यहां करीब 69 हजार लोग संक्रमित पाए गए थे तो 503 लोगों की मौत हुई थी।

    UP में लखनऊ- वाराणसी समेत पांच शहरों में लॉकडाउन
    इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उत्तर प्रदेश के 5 बड़े शहरों में पूर्ण लॉकडाउन का निर्देश दिया है। कोर्ट ने लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, प्रयागराज और गोरखपुर में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया है। उत्तर प्रदेश कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सोमवार को वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई हुई। इस दौरान जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा और जस्टिस अजीत कुमार की डिवीजन बेंच ने प्रदेश के सबसे ज्यादा कोविड-19 प्रभावित इन 5 शहरों में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया है।

    दिल्ली
    राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण की स्थिति भयावह होती जा रही है। यहां बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 23 हजार 686 नए मामले दर्ज किए गए। राजधानी में संक्रमण की दर 26.12% है। हालांकि लोग ठीक भी हो रहे हैं। बीते 24 घंटे में 21,500 लोग ठीक भी हुए हैं। वहीं 240 लोगों की मौत हो गई है।
    राजधानी में कुल एक्टिव केस – 76,887
    कुल ठीक हुए लोग – 7,87,898
    मरने वालों की कुल संख्या – 12,361

    पश्चिम बंगाल
    पश्चिम बंगाल में बीते 24 घंटे मे कोरोना संक्रमण के 8,426 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 4,608 लोग ठीक हुए हैं। 38 लोगों की कोरोना से मौत की पुष्टि की गई है।
    कुल एक्टिव केस– 53,418
    कुल ठीक हुए लोग – 6,04,329
    मरने वालों की कुल संख्या – 10,606

    छत्तीसगढ़
    छतीसगढ़ में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 13,934 नए मामले सामने आए। वहीं 11,815 लोग डिस्चार्ज हुए हैं और बीते 24 घंटे में मरने वालों की संख्या 165 है।
    कुल एक्टिव केस – 1,29,000
    कुल डिस्चार्ज हुए लोग – 1,13,669
    मरने वालों की कुल संख्या – 6,083

    मध्य प्रदेश
    मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 12897 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 6836 लोग ठीक भी हुए हैं और 79 लोगों की मौत हो गई है।
    कुल एक्टिव केस – 74,558
    कुल ठीक हुए लोग – 3,41,783
    मरने वालों की कुल संख्या – 4636

    हिमाचल प्रदेश
    बीते 24 घंटे में हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 1695 नए मामले सामने आए हैं। 593 लोग इलाज के बाद ठीक हुए हैं और 13 लोगों की मौत हो गई है।
    कुल एक्टिव केस – 9,783
    कुल ठीक हुए लोग – 67,072
    मरने वालों की कुल संख्या – 1,190

    राजस्थान
    बीते 24 घंटे में राजस्थान मे कोरोना संक्रमण के 11,967 मामले सामने आए हैं। वहीं 2408 लोग इलाज के बाद ठीक हुए हैं और 53 लोगों की मौत हो गई है।

    हरियाणा
    हरियाणा में बीते 24 घंटे में 6,842 नए मामले सामने आए हैं और कोरोना संक्रमण के कारण 33 लोगों के मौत की पुष्टि की गई है।

    कर्नाटक
    बीते 24 घंटे में कर्नाटक में 15785 नए मामले सामने आए हैं और 7098 लोग इलाज के बाद ठीक हुए हैं। वहीं 146 लोगों के मौत हो गई है।

    गुजरात
    बीते 24 घंटे में 11,403 नए मामले आए हैं। 117 लोगों की मौत हो गई है और 4179 लोग इलाज के बाद ठीक हुए हैं।



    Source link

    नासा की बड़ी कामयाबी, मंगल ग्रह पर पहला मिनी हेलीकॉप्टर उड़ाने में सफल

    0

    डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। मानव जाति के लिए एक ऐतिहासिक उपलब्धि के साथ अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने सोमवार को मंगल ग्रह पर अपने इंजिन्यूटी मार्स हेलिकॉप्टर की पहली संचालित, नियंत्रित उड़ान को सफलतापूर्वक लॉन्च किया।

    मिनी हेलीकॉप्टर ने अपनी उड़ान भारतीय समयानुसार दोपहर लगभग 3:45 बजे शुरू की और नासा मुख्यालय में डेटा भारतीय समय के अनुसार दोपहर बाद लगभग 4.25 बजे प्राप्त किया गया। लगभग 20 से 30 सेकंड तक हवा में मंडराते हुए इस छोटे हेलिकॉप्टर ने ग्राउंड से कुछ फीट की दूरी से उड़ान भरते हुए लैंडिंग की।

    इस उपलब्धि के बाद, टीम अब अतिरिक्त दूरी और अधिक ऊंचाई की अतिरिक्त प्रयोगात्मक उड़ानों का प्रयास करेगी। हेलीकॉप्टर द्वारा अपने प्रौद्योगिकी प्रदर्शन को पूरा करने के बाद, पर्सिवियरेंस रोवर अपने वैज्ञानिक मिशन को जारी रखेगा।

    अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने मंगल ग्रह पर भेजे गए पर्सिवियरेंस रोवर के साथ इंजिन्यूटी नाम का एक छोटा हेलिकॉप्टर भेजा था। इससे पहले इसके 11 अप्रैल को ऐतिहासिक उड़ान भरने की संभावना जताई गई थी। हालांकि इससे पहले इसके 8 अप्रैल को लॉन्च किए जाने की उम्मीद जताई गई थी, मगर कुछ तकनीकी कारणों की वजह से इसकी लॉन्चिंग में कई बार देरी हुई।

    लॉन्चिंग में देरी के बारे में इससे पहले कैलिफोर्निया के पासाडेना में नासा की जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी (जेपीएल) की ओर से घोषणा की गई थी। जेपीएल में मंगल हेलिकॉप्टर के चीफ इंजीनियर बॉब बालाराम ने कहा कि छह साल पहले शुरू हुई इस यात्रा के बाद से हर कदम विमान के इतिहास में अपरिवर्तित रहा है।

    मिनी हेलीकॉप्टर ने नासा के ²ढ़ता रोवर के पेट से जुड़े होने के दौरान मंगल पर उड़ान भरी, जिसने 18 फरवरी को लाल ग्रह पर स्पर्श किया। 11 अप्रैल की मूल उड़ान की निर्धारित तारीख कई बार स्थानांतरित की गई थी, क्योंकि इंजीनियरों ने प्रीफ्लाइट चेक और कमांड अनुक्रम मुद्दे के समाधान पर काम किया है।

    मंगल पर नियंत्रित तरीके से उड़ान भरना पृथ्वी पर उड़ान भरने से कहीं अधिक कठिन है। नासा की ओर से धरती के बाहर दूसरे ग्रह पर किसी हेलिकॉप्टर की यह पहली उड़ान है। यही वजह है कि इसे ऐतिहासिक उड़ान माना जा रहा है। हेलिकॉप्टर की मदद से मंगल ग्रह के अनछुए पहलुओं का पता लगाया जाएगा। नासा ने इससे पहले इसकी तस्वीर भी जारी की थी।



    Source link

    कोरोना का कहर: वैक्सीन की दोनों डोज लेने के 15 दिन बाद पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह कोरोना संक्रमित, इलाज के लिए एम्स में भर्ती

    0

    डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को सोमवार को कोविड के सकारात्मक परीक्षण के बाद एम्स में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। सूत्रों के मुताबिक उन्हें ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है। खास बात ये है कि पूर्व PM कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके थे। उन्हें स्वदेशी कोवैक्सिन का पहला शॉट 3 मार्च और बूस्टर डोज 4 अप्रैल को दिया गया था। इस लिहाज से वे दूसरे डोज के बाद 2 हफ्ते का समय भी पूरा कर चुके थे।

    बता दें कि रविवार को मनमोहन सिंह ने कोरोना संकट को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी थी। इस चिट्ठी के जरिए उन्होंने सरकार को कई सुझाव दिए थे। फिलहाल पूर्व पीएम खुद कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी और प्रियंका गांधी सहित कई नेताओं ने उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की है।

    कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि मनमोहन सिंह जी, आपके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना। भारत को इस कठिन समय में आपके मार्गदर्शन और सलाह की आवश्यकता है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक ट्वीट में कहा कि अभी-अभी खबर मिली है कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह कोविड का सकारात्मक परीक्षण किया गया है। आपके जल्दी ठीक होने के लिए हमारी प्रार्थना।

    मनमोहन ने रविवार को ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोरोना से निपटने के लिए 5 सुझाव दिए थे। उन्होंने मोदी को चिट्ठी लिखकर यूरोप और अमेरिका में अप्रूवल पा चुकी वैक्सीन को देश में ट्रायल की शर्त के बिना इस्तेमाल की मंजूरी देने को कहा था।​​​​​​ साथ ही वैक्सीनेशन ड्राइव में तेजी लाने और विदेशी कंपनियों से वैक्सीन मंगवाने के लिए एडवांस ऑर्डर देने की सलाह भी दी थी।

    मोदी को मनमोहन की 5 सलाहें

    1. सरकार को लोगों को बताना चाहिए कि किन वैक्सीन प्रोड्यूसर्स को कितने डोज के ऑर्डर दिए गए हैं और अगले 6 महीने तक इनकी सप्लाई के लिए कितने ऑर्डर स्वीकार किए गए हैं। अगर हमें इन 6 महीनों के दौरान किसी निश्चित जनसंख्या को वैक्सीन लगानी है तो इसके लिए हमें एडवांस में ऑर्डर देने चाहिए, ताकि वैक्सीन सप्लाई होने में परेशानी न आए।

    2. सरकार को यह बताना चाहिए कि ये सब कैसे किया जाएगा और सभी राज्यों में वैक्सीन किस हिसाब से बांटी जाएगी। केंद्र सरकार राज्यों को 10 प्रतिशत वैक्सीन की डिलीवरी इमरजेंसी के तौर पर कर सकती है। इसके बाद वैक्सीन की डिलीवरी होने पर आगे की सप्लाई की जाए।

    3. राज्यों को फ्रंटलाइन वर्कर्स तय करने में थोड़ी सहूलियत देनी चाहिए ताकि 45 से कम उम्र होने पर भी उन्हें वैक्सीन लगाई जा सके। उदाहरण के तौर पर हो सकता है टीचर्स, बस-टैक्सी-थ्री व्हीलर चलाने वालों, नगर पालिका और पंचायत के स्टार और वकीलों को फ्रंट लाइन वर्कर्स घोषित करना चाहते हों। ऐसे में उन्हें 45 साल से कम उम्र होने पर भी वैक्सीन लगाई जा सकेगी।

    4. पिछले कुछ दशकों से भारत दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन प्रोड्यूसर बनकर उभरा है। खासतौर पर निजी क्षेत्र में। इसकी वजह सरकार द्वारा अपनाई गईं पॉलिसी हैं। इस इरजेंसी के हालत में सरकार को वैक्सीन प्रोड्यूसर्स को प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए सहूलियतें और रियायतें देनी चाहिए। कानून में लाइसेंस के नियम को फिर से शुरू करना चाहिए ताकि कंपनियां इसके तहत लाइसेंस हासिल कर प्रोडक्शन शुरू कर सकें। एड्स जैसी बीमारी से लड़ते वक्त पहले भी ऐसा किया जा चुका है। कोविड की बात करें तो मैंने ये पढ़ा है कि इजरायल ने कम्पल्सरी लाइसेंस प्रोविजन को लागू कर दिया है। भारत में बढ़ते कोरोना केस देखते हुए, यहां भी इसे लागू करना चाहिए।

    5. स्वदेशी वैक्सीन की सप्लाई सीमित है। ऐसे में यूरोपियन मेडिकल एजेंसी और USFDA जैसी विश्वसनीय एजेंसियों ने जिन वैक्सीन को अप्रूवल दिया है, उन्हें घरेलू ट्रायल जैसी शर्त के बिना मंगवाया जाए। मुझे लगता है कि इमरजेंसी के हालात को देखकर एक्सपर्ट भी इसे जायज ही मानेंगे। ये सहूलियत निश्चित समयसीमा के लिए ही होगी, जिसके भीतर भारत में ब्रिज ट्रायल पूरे कर लिए जाएंगे। जिन लोगों को ये वैक्सीन लगवाई जाए, उन्हें भी इस संबंध में जानकारी दी जाए कि इन्हें विदेश में विश्वसनीय एजेंसियों ने अप्रूवल दिया है।



    Source link

    कोरोना का असर : कांग्रेस के बाद भाजपा ने बड़ी रैलियों पर लगाई रोक, अब पीएम मोदी भी सिर्फ 500 लोगों को करेंगे संबोधित    

    0

    डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने कोरोना के खतरे को देखते हुए पश्चिम बंगाल में बड़ी रैलियों पर रोक लगाई है। अब पार्टी ने सिर्फ छोटी जनसभाओं को करने का निर्णय लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित सभी नेता सिर्फ पांच-पांच सौ लोगों की उपस्थिति वाली रैलियों में संबोधित करेंगे। राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को यह निर्णय लिया।

    भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि चुनाव जैसी लोकतांत्रिक प्रक्रिया का पूर्ण होना जरूरी है और साथ ही कोरोना संक्रमण की चेन को भी तोड़ना है। ऐसे में पार्टी ने बड़ी जनसभाओं, रैलियों और आयोजनों पर रोक लगाई है। ये छोटी-छोटी जनसभाएं खुले में कोविड 19 प्रोटोकॉल के सख्त पालन के बीच होंगी। भारतीय जनता पार्टी ने पश्चिम बंगाल में 6 करोड़ मास्क और सेनिटाइजर बांटने की भी तैयारी की है।

    राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सभी प्रदेशों में कोरोना हेल्प डेस्क और कोविड हेल्पलाइन नंबर भी खोलने का निर्देश दिया है। ताकि जनसेवा का अभियान चल सके। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इससे पूर्व रविवार को सभी प्रदेशों को अपना बूथ-कोरोना मुक्त अभियान चलाने का निर्देश दिया था। बता दें कि पिछले साल भाजपा ने प्रधानमंत्री मोदी के मार्गदर्शन और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के निर्देशन में सेवा ही संगठन अभियान चलाकर 30 करोड़ फूड पैकेज बांटा था।



    Source link

    CSK vs RR IPL 2021: जडेजा और मोइन ने 4 ओवर में 5 विकेट लेकर चेन्नई को दिलाई लगातार दूसरी जीत, राजस्थान रॉयल्स को 45 रनों से हराया

    0

    डिजिटल डेस्क, मुंबई। IPL 2021 सीजन के 12वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने राजस्थान रॉयल्स (RR) को 45 रन से हरा दिया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए CSK ने 20 ओवर में 9 विकेट पर 188 रन बनाए। इसके जवाब में RR टीम 20 ओवर में 9 विकेट पर 143 रन ही बना सकी। इस जीत के साथ CSK पॉइंट टेबल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के बाद दूसरे नंबर पर पहुंच गई है।

    चेन्नई के ऑलराउंडर्स मोइन अली और रविंद्र जडेजा ने 4 ओवर के अंदर मैच पलट कर रख दिया। इन दोनों ने 12 से 15वें ओवर के बीच राजस्थान के 5 खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा। जडेजा ने 12वें ओवर में जोस बटलर और शिवम दुबे को आउट किया। इसके बाद मोइन ने 13वें डेविड मिलर और 15वें ओवर में रियान पराग और क्रिस मॉरिस को पवेलियन भेजा। जडेजा ने 2 विकेट के साथ 4 शानदार कैच भी लपके। उन्होंने मनन वोहरा, रियान, मॉरिस और उनादकट का कैच लिया।

    राजस्थान की पारी:

    • राजस्थान की शुरुआत अच्छी नहीं रही। सैम करन ने राजस्थान को 2 झटके दिए। उन्होंने पहले मनन वोहरा को आउट किया। वोहरा 11 बॉल पर 14 रन बनाकर आउट हुए। जडेजा ने उनका शानदार कैच लपका।
    • सैम ने इसके बाद कप्तान संजू सैमसन को ड्वेन ब्रावो को हाथों कैच कराया। सैमसन 5 बॉल पर 1 रन ही बना सके।
    • 45 रन पर 2 विकेट गंवा चुकी RR टीम को बटलर और शिवम ने संभाला। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 42 रन की पार्टनरशिप की।
    • अच्छी बल्लेबाजी कर रहे बटलर हालांकि फिफ्टी से चूक गए। जडेजा ने इस पार्टनरशिप को तोड़ा। उन्होंने 12वें ओवर की पहली बॉल पर बटलर को क्लीन बोल्ड किया। वे 35 बॉल पर 49 रन बनाकर आउट हुए।
    • राजस्थान टीम इससे उबर भी नहीं सकी थी कि जडेजा ने इसी ओवर की आखिरी बॉल पर शिवम दुबे को LBW किया। शिवम 20 बॉल पर 17 रन बनाकर आउट हुए।
    • 90 रन पर 4 विकेट गंवा चुकी RR टीम को रियान और पिछले मैच के हीरो रहे डेविड मिलर से उम्मीद थी। पर मोइन ने इन्हें टिकने नहीं दिया। मोइन ने 13वें ओवर में मिलर को LBW किया। वे 5 बॉल पर 2 रन बनाकर आउट हुए।
    • इसके बाद मोइन ने अपने अगले ही ओवर (15वें) में 2 और विकेट लिए। उन्होंने रियान पराग (3 रन) और क्रिस मॉरिस (0) को आउट किया। राजस्थान टीम ने 95 रन पर 7 विकेट गंवा दिए।
    • हालांकि, इसके बाद राहुल तेवतिया और जयदेव उनादकट ने कुछ अच्छे शॉट्स लगाए। पर तब तक काफी देर हो चुकी थी। 19वें ओवर में ड्वेन ब्रावो ने तेवतिया को आउट किया। तेवतिया 15 बॉल पर 20 रन बनाकर आउट हुए।
    • जयदेव उनादकट 17 बॉल पर 24 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें आखिरी ओवर में शार्दूल ठाकुर ने रविंद्र जडेजा के हाथों कैच कराया। इस तरह राजस्थान टीम 9 विकेट पर 143 रन ही बना सकी।

    ब्रावो ने CSK को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया
    CSK के लिए ड्वेन ब्रावो ने आखिर में 8 बॉल पर 20 रन की नाबाद पारी खेली और चेन्नई को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। CSK ने आखिरी 5 ओवर में 61 रन बनाए और 4 विकेट गंवा दिया। RR की ओर से क्रिस मॉरिस ने 2 और चेतन सकारिया ने 3 विकेट लिए।

    चेन्नई की पारी:
    ऋतुराज गायकवाड़ के रूप में चेन्नई को पहला झटका लगा। वे 10 रन बनाकर आउट हुए। ऋतुराज को मुस्तफिजुर रहमान ने शिवम दुबे के हाथों कैच कराया। वे लगातार तीसरे मैच में फेल रहे। इससे पहले 2 मैच में ऋतुराज ने सिर्फ 10 रन बनाए थे। इसके बाद फाफ डुप्लेसिस 17 बॉल पर 33 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें क्रिस मॉरिस ने IPL में 13 पारियों में 5वीं बार पवेलियन भेजा।

    मोइन अली 20 बॉल पर 26 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें राहुल तेवतिया ने अपने पहले ही ओवर में पवेलियन भेजा। यह उनका सीजन में पहला विकेट भी रहा। इसके बाद अंबाती रायडू और सुरेश रैना ने चौथे विकेट के लिए 26 बॉल पर 45 रन की पार्टनरशिप की। राजस्थान के तेज गेंदबाज चेतन सकारिया ने 14वें ओवर में रायडू और रैना दोनों को आउट किया। रायडू ने 17 बॉल पर 27 रन की पारी खेली। वहीं, रैना 15 बॉल पर 18 रन बनाकर आउट हुए।

    रविंद्र जडेजा 7 बॉल पर 8 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें मॉरिस ने संजू सैमसन के हाथों कैच कराया। कप्तान एमएस धोनी 17 बॉल पर 18 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें सकारिया ने जोस बटलर के हाथों कैच कराया। यह सकारिया का तीसरा विकेट रहा।

    प्लेइंग XI
    CSK और RR दोनों ही अपनी पिछली मैच वाली टीम के साथ उतर रहे हैं यानी दोनों में कोई भी बदलाव नहीं हुआ है।

    चेन्नई सुपर किंग्स : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान और विकेटकीपर), फाफ डुप्लेसी, ऋतुराज गायकवाड़, सुरेश रैना, अंबाती रायुडू, मोईन अली, ड्वेन ब्रावो, सैम करन, रवींद्र जाडेजा, शार्दुल ठाकुर, दीपक चाहर।

    राजस्थान रॉयल्स : मनन वोहरा, जॉस बटलर, संजू सैमसन (कप्तान और विकेटकीपर), डेविड मिलर, रियान पराग, राहुल तेवतिया, शिवम दुबे, क्रिस मॉरिस, जयदेव उनादकट, मुस्तफिजुर रहमान, चेतन साकरिया।



    Source link

    Good News: 1 मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को लगेगी कोरोना वैक्सीन, कोरोना पर बैठक में PM मोदी का फैसला

    0

    डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर चल रही है। ऐसे में हर दिन डेढ़ लाख से ज्यादा नए संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। इस बीच केंद्र सरकार की ओर से राहत देने वाली सामने आई है। अब देश में एक मई से 18 साल से ऊपर की उम्र वाले सभी लोगों को वैक्सीन की डोज दी जाएगी। पीएम मोदी ने एक बैठक के बाद यह अहम फैसला लिया है। बता दें कि अभी तक 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को ही वैक्सीन लेने की इजाजत दी गई थी।

    वैक्सीनेशन के अगले फेज को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि सरकार देश ज्यादा से ज्यादा लोगों को कम से कम समय में वैक्सीन लगाने के लिए लगातार काम कर रही है।सरकार ने यह भी फैसला लिया है कि वैक्सीन बनाने वाली कंपनियां अपनी 50% सप्लाई केंद्र को करेंगी। बाकी 50% सप्लाई वे राज्य सरकारों को दे सकेंगी या उसे ओपन मार्केट में बेच सकेंगी। वैक्सीनेशन के लिए कोविन के जरिए रजिस्ट्रेशन पहले की तरह जरूरी रहेगा।

    अब तक 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को देशभर में कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही थी। देशभर में 12.38 करोड़ लोग वैक्सीन का पहला या दूसरा डोज ले चुके हैं। सरकार की ओर से सोमवार शाम को जारी आदेश के मुताबिक, नई पॉलिसी 1 मई 2021 से लागू की जाएगी और इसे जरूरत के मुताबिक रिव्यू भी किया जाएगा।

    कंपनियां 50% वैक्सीन केंद्र को सप्लाई करेंगी
    सरकार ने वैक्सीन निर्माता कंपनियों से कहा है कि फेज-3 में वैक्सीन बनाने वाली कंपनियां महीने में बनने वाली कुल वैक्सीन का 50% केंद्र को सप्लाई करेंगी। बाकी का 50% राज्य सरकारों और ओपन मार्केट में बेचने की छूट रहेगी।

    बाजार में बिक्री के लिए टीके की कीमत पहले बतानी होगी
    कंपनियों को तय कोटे के मुताबिक 50% वैक्सीन राज्यों और खुले बाजार में 1 मई से पहले पहुंचानी होगी। कंपनियों को इसकी कीमत पहले ही तय करनी होगी। इसके बाद राज्य सरकार, निजी अस्पताल, औद्योगिक इकाइयां कंपनियों से सीधे वैक्सीन खरीद सकेंगी। वैक्सीन लगाने वाले प्राइवेट संस्थानों को भी इसका चार्ज पहले से बताना होगा।

    अभी चल रहा फ्री कोरोना वैक्सीनेशन जारी रहेगा
    सरकार की तरफ से टीकाकरण अभियान पहले की तरह जारी रहेगा। इसके तहत प्राथमिकता वाले ग्रुप्स को फ्री में वैक्सीन लगाई जा रही है। इनमें हेल्थकेयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 45 साल से ज्यादा उम्र के लोग शामिल है।

    वैक्सीनेशन के लिए तय प्रोटोकॉल का पालन करना होगा
    सरकारी और प्राइवेट सेंटर पर होने वाला वैक्सीनेशन राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल रहेगा। वैक्सीनेशन के लिए तय प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। पहले की तरह कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन होगा। साथ ही, वैक्सीन लगने के बाद इसके गंभीर साइड इफेक्ट्स (एडवर्स इवेंट) की जानकारी भी देनी होगी। सेंटर पर वैक्सीन के स्टॉक और कीमत की जानकारी भी रियल टाइम देनी होगी।

    पहली डोज लेने वालों को टीका लगाने में प्राथमिकता
    वैक्सीन का पहला डोज ले चुके हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीनेशन में प्राथमिकता दी जाएगी। वैक्सीन का पहला डोज लेने वाले 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को भी दूसरा डोज लेने के लिए तरजीह मिलेगी। ये पूरा काम तय रणनीति के साथ किया जाएगा।

    केंद्र क्राइटेरिया तय कर राज्यों को वैक्सीन देगा
    केंद्र सरकार वैक्सीन के अपने 50% फीसदी कोटे से क्राइटेरिया तय करेगी। सबसे पहले ज्यादा प्रभावित राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को वैक्सीन सप्लाई की जाएगी। वैक्सीन के वेस्टेज पर राज्यों की निगेटिव मार्किंग भी की जाएगी। इसके लिए सभी राज्यों को पहले से जानकारी दी जाएगी।



    Source link

    ‘कसौटी जिन्दगी की 2’ के अनुराग करेंगे आलिया भट्ट की फिल्म से बॉलीवुड डेब्यू

    0



    डिजिटल डेस्क,मुंबई। टीवी शो ‘कसौटी जिन्दगी की 2’ के अनुराग यानि कि एक्टर पार्थ समथान के बॉलीवुड डेब्यू को लेकर कई महीनों से चर्चा हो रही थी। इस खबर को एक्टर ने अपने एक इंटरव्यू के दौरान कन्फर्म कर दिया है। पार्थ ने कहा कि, वो जल्द ही बॉलीवुड डेब्यू करने वाले हैं और उनकी फिल्म में आलिया भट्ट लीड रोल में होंगी। 

    क्या कहा पार्थ समथान ने

    • ‘कैसी ये यारियां’ में माणिक और ‘कसौटी जिन्दगी की 2’ में अनुराग का  किरदार निभाकर लोगों का दिल जीतने वाले पार्थ अब बड़े पर्दे पर भी अपनी एक्टिंग का हुनर दिखाने वाले है।
    • पार्थ समथान अपनी पहली फिल्म को लेकर काफी एक्साइटेड हैं।
    • पार्थ ने कहा कि, अभी फिल्म प्री-प्रोडक्शन में है। 
    • पार्थ इस फिल्म में अपना सौ प्रतिशत देना चाहते हैं और कहते हैं कि, मैं उम्मीद करता हूं कि सब कुछ ठीक हो।
    • चर्चा थी कि, संजय लीला भंसाली की मोस्ट अवेटेड फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ में आलिया भट्ट के साथ काम करेंगे।
    • कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पार्थ ने रेसुल पुकुट्टी के ‘पिहरवा’ को साइन किया है, जिसमें आलिया भी मुख्य किरदार निभाते हुए नजर आएंगी। 
    • बता दें कि, इस फिल्म की कहानी भारत-चीन युद्ध के दौरान शहीद हुए बाबा हरभजन सिंह की कहानी के इर्द-गिर्द घूमती है।



    Source link

    प्राची देसाई हो चुकी है कास्टिंग काउच की शिकार, कहा- बॉलीवुड में पॉलिटिक्स की तरह करप्शन 

    0

    डिजिटल डेस्क,मुंबई। टीवी शो ‘कसम से’ में अपनी एक्टिंग से सबका दिल जीतने वाली प्राची देसाई ने अपने करियर को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है। प्राची ने एक इंटरव्यू में बताया कि, वो कास्टिंग काउच की शिकार हो चुकी है। प्राची के अनुसार, बॉलीवुड में भी पॉलिटिक्स की तरह करप्शन है। साथ ही यहां नेपोटिज्म की जड़े काफी मजबूत है, जिसकी वजह से उनके फिल्मी करियर पर बुरा असर पड़ा है।

    क्या कहा प्राची देसाई ने

    • एक्टिंग में डेब्यू  करने के बाद प्राची देसाई ने फरहान अख्तर की ‘रॉक ऑन’ में काफी महत्वपू भूमिका निभाई, जिसके बाद प्राची ने कभी मुड़कर नहीं देखा और आगे बढ़ते गई।
    • प्राची ने अपने इंटरव्यू में कहा कि, उन्हें एक बड़ी फिल्म में काम करने के लिए समझौता करने के लिए कहा गया लेकिन उन्होंने इसके लिए साफ मना कर दिया और ऑफर ठुकराने के बाद भी डायरेक्टर उनके संपर्क में था। हालांकि प्राची ने उन्हें फिर भी मना कर दिया।
    • प्राची ने बताया कि, साल 2015 के बाद उनके पास केवल कुछ प्रोजेक्ट्स रहे। दो साल से भी ज्यादा के इंतजार के बाद अब उनके पास कई प्रोजेक्ट हैं। 
    • प्राची के अनुसार, बॉलीवुड में भी पॉलिटिक्स की तरह करप्शन होता है। यहां नेपोटिज्म की जड़े काफी गहरी है और इससे कोई इनकार नहीं कर सकता। 
    • काम की बात करें तो प्राची देसाई ने हाल ही में डिजिटल डेब्यू किया है। वह मनोज बाजपेयी स्टारर फिल्म ‘साइलेंस’ में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए दिखाई दी है।
    • प्राची के अनुसार, ओटीटी प्लेटफॉर्म में देखने के लिए कई तरह के कंटेंट हैं और आने वाले दिनों में उनके पास दो बड़े और इंटरेस्टिंग प्रोजेक्ट है।



    Source link

    Research:कोरोना से बचना हैं तो घरों की खिड़कियां खोल दें !

    0

    डिजिटल डेस्क,दिल्ली। कोरोना से बचने के लिए दुनियाभर के वैज्ञानिक आए दिन नई-नई रिसर्च कर रहे है। इसी बीच मेडिकल जर्नल लैंसेट में प्रकाशित एक नई रिसर्च के अनुसार, किसी बंद जगह यानी Indoor के मुकाबले बाहर खुली जगह में यानी Outdoor में वायरस के फैलने की आशंका कम रहती है। इसलिए आप सभी को अपने घरों की खिड़कियां खोलकर रखनी चाहिए ताकि, क्रॉस वेंटिलेशन हो सके।

    क्या कहा गया रिसर्च में

    • ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया के अनुसार, इंडोर यानी बंद जगहों पर क्रॉस वेंटिलेशन होना बेहद जरूरी है।
    • नई रिसर्च के अनुसार, कोविड-19 इंफेक्शन के लिए जिम्मेदार नया कोरोना वायरस सांस की बूंदों से नहीं बल्कि हवा के जरिए फैलता है।
    • आपके घर का कमरा एकदम हवादार होना चाहिए, ताकि हवा का संचार अच्छी तरह हो सके।
    • साथ ही किसी बंद कमरे में ज्यादा लोग एक साथ इक्ट्ठा न हों यही बेहतर होगा।
    • आपके घर के बंद कमरे में केवल 1 व्यक्ति ही वहां मौजूद सभी लोगों को संक्रमित कर सकता है ऐसा नहीं कि अगर आप संक्रमित व्यक्ति से 10 मीटर दूर बैठे हैं तो आप संक्रमित नहीं होंगे।
    • इसकी वजह ये हैं कि, एरोसोल लंबी दूरी तक ट्रैवल कर सकता है और अगर संक्रमित व्यक्ति खांसता या छींकता है, तो एरोसोल और भी ज्यादा दूर तक जा सकता है।



    Source link

    CSK Vs RR: धोनी के सुपर किंग्स की राजस्थान रॉयल्स से भिड़ंत, आज शाम 7.30 बजे मुंबई में खेला जाएगा मैच

    0

    डिजिटल डेस्क, मुंबई। इंडियन प्रीमियर लीग में आज तीन बार की विजेता चेन्नई सुपर किंग्स का मुकाबला राजस्थान रॉयल्स से होगा। शाम 7.30 बजे मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में होने वाले इस मैच में दोनों ही टीमें अपनी दूसरी जीत दर्ज करने के इरादे से उतरेंगी। टूर्नामेंट में चेन्नई और राजस्थान दोनों ही टीमों ने दो-दो मैच खेले हैं। जिसमें एक-एक जीत हासिल की है। दोनों टीमों के लिए यह सीजन अब तक 50-50 नतीजों वाला रहा है। मजबूत बल्लेबाजी वाली इन टीमों की भिड़ंत का नतीजा इस बात से तय हो सकता है कि पावर प्ले में किसके कम विकेट गिरते हैं।

    चेन्नई और राजस्थान के बीच में हेड टू हेड में चेन्नई की टीम काफी आगे है। दोनों टीमें अब तक 23 बार आमने सामने आई हैं, जिसमें से 14 बार चेन्नई को जीत मिली है। वहींं, सिर्फ 9 मुकाबले राजस्थान ने जीते हैं। हालांकि, आईपीएल 2020 में राजस्थान रॉयल्स की टीम चेन्नई सुपर किंग्स पर हावी रही थी।

    चेन्नई सुपर किंग्स की प्लेइंग इलेवन– रुतुराज गायकवाड़, फाफ डू प्लेसिस, मोईन अली, सुरेश रैना, अंबाती रायडू, एमएस धोनी (कप्तान और विकेटकीपर), सैम कर्रन, ड्वेन ब्रावो, रविंद्र जडेजा, शार्दुल ठाकुर और दीपक चह
    राजस्थान रॉयल्स की प्लेइंग इलेवन- जोस बटलर, मनन वोहरा, संजू सैमसन (कप्तान और विकेटकीपर), डेविड मिलर, शिवम दुबे, रियान पराग, राहुल तेवतिया, क्रिस मॉरिस, जयदेव उनादकट, मुस्ताफिजुर रहमान और चेतन सकारिया



    Source link