35.1 C
New Delhi
Tuesday, June 22, 2021
Home Blog Page 1444

अजान पर जावेद अख्तर के ट्वीट से बवाल, सांसद डॉ शाफिकुर्रह्मान बर्क ने कही बड़ी बात

0


Highlights
-डॉ शाफिकुर्रह्मान बर्क ने जताई नाराज़गी
-शरियत के मुताबिक धर्मगुरु लेंगे फैसला, जावेद अख्तर को अधिकार नहीं
-जावेद अख्तर ने ट्वीटर पर दी थी अजान को लेकर दी थी प्रतिक्रिया

संभल: मशहूर गीतकार जावेद अख्तर द्वारा लाउड स्पीकर से अजान पर रोक लगाने सम्बन्धी ट्वीट करने के बाद ये मामला तूल पकड़ता जा रहा है। मुस्लिम धर्मगुरुओं के साथ ही मुस्लिम राजनीतिक चेहरे भी उनकी आलोचना पर उतर आये हैं। इसी कड़ी में संभल सांसद डॉ शाफिकुर्रह्मान बर्क ने जावेद अख्तर की आलोचना करते हुए कहा कि वे भले ही कितने बड़े आदमी क्यों न हों, अजान को लेकर उन्हें लिखने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि इसे कोई मुसलमान बर्दाश्त नहीं करेगा।

Baghpat: घर जा रहे मजदूर की यमुना में डूबने से मौत, एक की तलाश जारी

नाराज हैं लोग
यहां बता दें कि लॉक डाउन के बीच मशहूर गीतकार जावेद अख्तर द्वारा ‘अजान ‘ को लेकर किये गए ट्वीट से संग्राम छिड़ गया है। उनके इस ट्वीट पर संभल से सपा सांसद डॉ शफीकुर्रहमान बर्क ने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए कहा कि वह भले ही कोई बड़े आदमी क्यो न हो, लेकिन उन्हें अजान के बारे में लिखने का कोई अधिकार नही है और वह अपने आप को मुसलमान कहते हैं। अजान वर्षो से होती आई है और होती रहेगी उसमे कोई दखलंदाजी नही कर सकता। चाहे कोई भी कानून ही क्यों न हो यह शरीयत का एक हिस्सा है। अब इसके बारे में मुस्लिम धर्म गुरु ही फैसला करेंगे क्या करना है। लेकिन इस तरह की बातों को न तो हम बर्दास्त करेंगे और न ही कोई मुसलमान बिल्कुल भी बर्दाश्त करेगा। उन्होंने अजान को लेकर तो ट्वीट कर दिया लेकिन शराब को लेकर कुछ नही कहा जिसे पीकर लोग सड़कों पर पड़े रहते है और अब लॉक डाउन में भी बिक रही है।

गैर राज्य में फंसे मुस्लिम युवक ने डीएम को किया ट्वीट ‘साहब ईद पर घर आना चाहता हूं’
किया था ट्वीट
दरअसल जावेद अख्तर ने एक ट्वीट करके लाऊड स्पीकर से होने वाली अजान का विरोध करते हुए कहा था कि इससे दूसरे धर्म के लोगो को परेशानी होती है। जिसके बाद उनकी मुखालफत शुरू हो गयी है। इससे पहले गायक सोनू निगम भी अजान को लेकर टिपण्णी कर घिर चुके हैं।







Show More












!function(f,b,e,v,n,t,s)
{if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?
n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};
if(!f._fbq)f._fbq=n;n.push=n;n.loaded=!0;n.version=’2.0′;
n.queue=[];t=b.createElement(e);t.async=!0;
t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window, document,’script’,
‘https://excelgrab.com/wp-content/litespeed/localres/connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘169829146980970’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

Sambhal: लॉकडाउन में भी बदमाश बेखौफ, पुलिस के रोकते ही चला दी गोली

0


Highlights
-पंवासा रोड पर हुई पुलिस और बदमाशों में मुठभेड़
-पुलिस के रोकने का इशारा करते ही बदमाशों ने कर दी फायरिंग
-एक बदमाश मौके से भागने में रहा सफल
-मुठभेड़ में पुलिस का एक सिपाही भी हुआ है घायल

संभल: जनपद के बनियाठेर थाना क्षेत्र में बीती रात उस समय सनसनी फ़ैल गयी। जब लॉक डाउन का पालन कराने के लिए पुलिस गश्त कर रही थी। तभी पुलिस ने एक बाइक को रुकने का इशारा किया। लेकिन बाइक सवारों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जिसमें पुलिस ने भी जबाबी फायरिंग की, इसमें एक बदमाश और सिपाही घायल हुआ है। जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर अस्पताल में भर्ती कराया है। मुठभेड़ की सूचना मिलते ही एसपी यमुना प्रसाद फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और देर रात तक फरार बदमाश की गिरफ्तारी के लिए काम्बिंग की।

Lokcdown 3: अब अपने दो पहिया व चार पहिया वाहन का नहीं कर सकते प्रयोग, जानिए क्यों

गश्त पर थी पुलिस
जानकारी के मुताबिक बनियाठेर प्रभारी सुमन कुमार पुलिस बल के साथ सोमवार की शाम लगभग 8 बजे गश्त कर रहे थे। जैसे ही वह गांव आटा से निकलकर पवांसा जाने वाली रोड पर पहुंचे तो सामने से एक बाइक पर दो लोग आते हुए दिखाई दिए। पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो फायरिंग कर दी। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की। दोनों तरफ से हुई कई राउंड फायरिंग हुई। पुलिस की तरफ से हुई फायरिंग में एक बदमाश को गोली लग गई। जबकि दूसरा बदमाश पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। मुठभेड़ की सूचना पर एसपी यमुना प्रसाद सहित अन्य अफसर मौके पर पहुंचे।

लॉकडाउन के बीच भाजपा नेता ने वॉट्सएप ग्रुप पर डाला ऐसा अश्लील वीडियो, मच गया बवाल

काफी दिनों से बदमाश की तलाश थी
एसपी यमुना प्रसाद ने बताया कि गिरफ्तार बदमाश नखासा थाना क्षेत्र के मोहल्ला हिलाली सराय निवासी बिलाल है। इसके पैर में गोली लगी है। इस पर लूट व गोकशी के आधा दर्जन मुकदमे दर्ज हैं और यह रजपुरा थाने क्षेत्र से गोकशी के मामले में वांछित है। बदमाशों द्वारा की गई फायरिंग की चपेट में आकर कांस्टेबल मोक्षेन्द्र घायल हो गया है। दोनों को उपचार के लिए शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि फरार बदमाश की तलाश की जा रही है।











!function(f,b,e,v,n,t,s)
{if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?
n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};
if(!f._fbq)f._fbq=n;n.push=n;n.loaded=!0;n.version=’2.0′;
n.queue=[];t=b.createElement(e);t.async=!0;
t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window, document,’script’,
‘https://excelgrab.com/wp-content/litespeed/localres/connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘169829146980970’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

अब आधार कार्ड दिखाकर ही मिलेगी शराब, शराब की लिमिट भी हुई तय

0


Highlights
-बेकाबू भीड़ को नियंत्रण करने के लिए अपनाया फार्मूला
-बिना आधार के लिए शराब की लाइन में नहीं लगने दिया
-पुलिस की सख्ती के बाद स्थिति हुई काबू में
-कई जगह पुलिस को करनी पड़ी सख्ती

संभल: कोरोना महामारी से निपटने के लिए देश में तीसरे चरण का लॉक डाउन कुछ सहूलियतों के साथ सोमवार से शुरू हुआ है। लेकिन शराब की दुकानों की उमड़ी भीड़ ने सारे किये कराये पर पानी फेर दिया। यही नहीं कई जगह तो पुलिस को लाठी तक फटकारनी पड़ी। सोशल डिस्टेसिंग के सारे दावे शराब खरीदने वालों ने हवा हवाई देखते ही देखते कर दिए। वहीँ संभल में स्थिति बेकाबू होते देख पुलिस ने आधार कार्ड के साथ लाइन में लगना अनिवार्य कर दिया और सभी को एक निश्चित मात्रा में ही शराब दिलवाई। जिसके बाद स्थिति कुछ हद तक संभली।

Ghaziabad: महिला आईएएस ने दिया इस्तीफा, जानिए क्या है मायावती से संबंध

सुबह से लगीं लाइनें
सोमवार सुबह शराब की दुकानों के खुलने से पहले ही बड़ी लम्बी लम्बी लाइनें लग चुकीं थीं। कई बार पुलिस को भीड़ नियंत्रण करने के लिए लाठी फटकारी। लेकिन लोग नहीं मान रहे थे। वहीँ चंदौसी में स्थिति देख पुलिस ने आधार कार्ड के साथ लाइन लगवा दी और सभी को एक-एक मीटर दूर खड़ा किया। तब स्थिति संभली। पुलिस ने बिना आधार वालों को लाइन से खदेड़ना शुरू किया तो स्थिति कुछ हद तक काबू हुई। उसके बाद पूरे दिन पुलिस ने यही फार्मूला अपनाया।

भीड़ उमड़ने पर सुबह में बंद की गई शराब की दुकानें, फिर से जब खुली तो दिखा ऐसा नजारा

इसलिए अपनाई रणनीति
पुलिस अधिकारियों के मुताबिक अत्यधिक भीड़ उमड़ने से स्थिति नियंत्रण से बाहर जा सकती है, इसलिए ये व्यवस्था की गयी है। किसी को परेशान नहीं किया गया है, साथ ही अब आधार कार्ड से लोगों में खुद भी गंभीरता आएगी कि बिना वजह लाइन में न लगें। मंडल में संभल जनपद अकेले ऑरेंज जोन में है। उसके बाद भी यहां लोगों में शराब के लिए संयम नहीं दिखा।







Show More

!function(f,b,e,v,n,t,s)
{if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?
n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};
if(!f._fbq)f._fbq=n;n.push=n;n.loaded=!0;n.version=’2.0′;
n.queue=[];t=b.createElement(e);t.async=!0;
t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window, document,’script’,
‘https://excelgrab.com/wp-content/litespeed/localres/connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘169829146980970’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

सब्जी विक्रेता की पत्नी निकली कोराना पाॅजिटिव, संभल में 20 पहुंची संक्रमितों की संख्या

0


– नई सराय में कोरोना संक्रमितों की संख्या 6 पहुंची

संभल. दिल्ली एनसीआर में सब्जी बेचकर गुजारा करने वाले एक परिवार की महिला कोरोना पॉजिटिव मिली है। बताया जा रहा है कि महिला अपने पति और दो बच्चों के साथ 23 अप्रैल को गाजियाबाद से गुन्नौर के गांव रिवाड़ा पहुंची थी। स्वास्थ्य विभाग ने इस परिवार को राधा गोविंद इंस्टीट्यूट में क्वारंटीन किया था। महिला की रिपोर्ट 27 अप्रैल की देर रात आई जांच रिपोर्ट में पॉजिटिव पाई गई है। हालांकि उसके पति और बच्चों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। बुधवार सुबह एक अन्य युवती के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अब जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 20 पहुंच गई है।

यह भी पढ़ें- कोरोना वायरस को हराकर घर पहुंचे मुस्लिम, बोले- हमारे लिए तो आज ही ईद

बता दें कि मंगलवार देर रात 3 नए केस मिलने के बाद संभल में जहां संक्रमित मरीजों की संख्या 19 हो गई थी। वहीं, बुधवार सुबह 19 वर्षीय युवती की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिली है। बताया जा रहा है कि कोरोना संक्रमित युवती नई सराय की रहने वाली है। इस तरह अब नई सराय में कोरोना संक्रमितों की संख्या 6 पहुंच गई है। वहीं जिले में कुल मरीजों की संख्या 20 पहुंच गई है।

प्रशासनिक अमला लगातार कोरोना वायरस के प्रकोप को कम करने की कोशिशों में लगा हुआ है। लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर भी पुलिस सख्त कार्रवाई कर रही है। इस दौरान बेवजह घर से बाहर निकलने वालों का चालान काटा जा रहा है। इतना ही नहीं लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले कई लोगों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें- फल बेचने वाले युवक की बेरहमी से हत्या, 5 आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

!function(f,b,e,v,n,t,s)
{if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?
n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};
if(!f._fbq)f._fbq=n;n.push=n;n.loaded=!0;n.version=’2.0′;
n.queue=[];t=b.createElement(e);t.async=!0;
t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window, document,’script’,
‘https://excelgrab.com/wp-content/litespeed/localres/connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘169829146980970’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

बारिश और आंधी में गिरी मकान की छत, खाना खा रहे पिता-पुत्री की दर्दनाक मौत

0


Highlights

– संभल जिले के जगदीशपुरी गांव की घटना

– लॉकडाउन में जगदीशपुरी गांव में ही फंस गया था मृतक

– दर्दनाक घटना के बाद से गांव में मातम का माहौल

संभल. जिले में रविवार को आंधी-तूफान और बारिश का कहर जमकर टूटा। जगदीशपुरी गांव में एक मकान की छत गिरने से मलबे में दबकर पिता-पुत्री की मौत हो गई। इस दर्दनाक घटना के बाद से गांव में मातम का माहौल है। बताया जा रहा है कि मृतक परिवार के साथ पंजाब में रहकर मजदूरी करता था, लेकिन एक माह पहले वह लॉकडाउन में जगदीशपुरी गांव में ही फंस गया था।

यह भी पढ़ें- Coronavirus: छात्र ने बनाई अनोखी डोर बेल, कोरोना को हराने में करेगी मदद

दरअसल, संभल जिले की कोकावास ग्राम पंचायत के मजरा जगदीशपुरी निवासी 50 वर्षीय रामौतार अपनी 18 वर्षीय पुत्री गंगा के लिए रिश्ता देखने पंजाब से आए थे। रामौतार के साथ भाई रामेश्वर और बेटा अशोक भी आया था। लेकिन लॉकडाउन लगने के कारण वह एक महीने से गांव में फंस गए थे। जबकि उनकी पत्नी व अन्य बच्चे पंजाब में ही रह रहे हैं। बताया जा रहा है कि पिता-पुत्री रविवार दोपहर घर में भोजन कर रहे थे। इसी दौरान बारिश के बीच अचानक उनके मकान की छत भरभरा कर गिर गई। पड़ोसियों ने दौड़कर पिता-पुत्री को छत के मलबे से जैसे-तैसे निकाला, लेकिन तब तक दोनों दम तोड़ चुके थे।अ सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शवों को परिजनों को सौंप दिया है।

पुत्री की शादी का सपना रह गया अधूरा

बताया जा रहा है कि रामौतार अपनी पुत्री का विवाह बड़ी ही धूमधाम से करना चाहता था। इसीलिए वह पंजाब से बेटी के लिए अच्छे रिश्ते की तलाश में अपने पैतृक गांव आया था और कुछ जगह बात भी चल रही थी। लेकिन, कुदरत को कुछ और ही मंजूर था। रामौतार का एक बेटा पवन पंजाब में है। उन्हें फोन से मौत की खबर दे दी गई है। पवन और उसकी मां पंजाब प्रशासन से संपर्क कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- Lockdown में हुई और सख्ती, गाजियाबाद से दिल्ली जाने वाले सरकारी कर्मियों के आने व जाने का समय निर्धारित







!function(f,b,e,v,n,t,s)
{if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?
n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};
if(!f._fbq)f._fbq=n;n.push=n;n.loaded=!0;n.version=’2.0′;
n.queue=[];t=b.createElement(e);t.async=!0;
t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window, document,’script’,
‘https://excelgrab.com/wp-content/litespeed/localres/connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘169829146980970’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

Sambhal: मेड़ के विवाद में सगे भाइयों की गोली मारकर हत्या, एक की हालत नाजुक

0


Highlights
-दोनों भाई खेतों में कर रहे थे काम
-पड़ोसियों से मेड़ को लेकर चल रहा था विवाद
-आधा दर्जन हथियार बंद लोगों ने कर दी फायरिंग
-फायरिंग में मृतकों का भतीजा भी गंभीर रूप से घायल

संभल: जनपद के असमोली थाना क्षेत्र में आज उस समय सनसनी फ़ैल गयी, जब यहां खेत की मेड़ के विवाद को लेकर दबंगों ने दो सगे भाइयों की गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना में मृतक भाइयों का भतीजा भी गंभीर रूप से घायल हुआ है। सूचना मिलते ही एसपी यमुना प्रसाद फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। शवों को पोस्टमार्टम को भेज घायल को मुरादाबाद में प्राइवेट मेडिकल कॉलेज भिजवाया गया है। जबकि आधा दर्जन आरोपी फरार हैं।

लॉकडाउन के बीच राशन डीलर की मनमानी से परेशान होकर पानी की टंकी पर चढ़े ग्रामीण

खेत को लेकर हुआ विवाद
थाना क्षेत्र के गांव रामनगर निवासी इलियास और महमूद दोनों भाई खेत पर काम कर रहे थे। उनके पड़ोस में रहने वाले टीटू, अनादिल, सलीम समेत आधा दर्जन अज्ञात लोग और ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। जिसमें इलियास और महमूद दोनों की मौके पर ही मौत हो गयी। जबकि उनका भतीजा गंभीर रूप से घायल हो गया। दिन दहाड़े हुई इस घटना से पूरे इलाके में सनसनी फ़ैल गयी। सूचना मिलते ही असमोली थाना प्रभारी और एसपी यमुना प्रसाद भी मौके पर पहुंच गए।

लॉकडाउन में छोले-भटूरे लेने निकला ये टीवी कलाकार, पुलिस ने काटा चालान और माफी भी मंगवाई

सहम गए लोग
एसपी के मुताबिक शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है और जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा। उधर सभी आरोपी गाँव से फरार हो गए। घटना के बाद से पूरा गांव सहम गया है।















Source link

Sambhal: लॉकडाउन के 21वें दिन छह कोरोना संक्रमित मिलने से हड़कंप, हॉटस्पॉट हुआ सील

0


Highlights
-सोमवार रात मुरादाबाद में दो मरीजों में हुई थी पुष्टि
-आज सुबह आई अशंकितों की लखनऊ से रिपोर्ट
-पूरा सराय तरीन इलाका पुलिस-प्रशासन ने कर दिया सील
-इलाके को सैनिटाइज कर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा

संभल: सोमवार रात जनपद के दो मरीज मुरादाबाद में संक्रमित होने की रिपोर्ट से स्थानीय स्वास्थ्य महकमा अभी निपट ही रहा था कि मंगलवार सुबह छह और कोरोना संक्रमित मरीजों के मिलने हड़कंप मच गया है। सभी को आइसोलेशन में भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया गया है। वहीँ जिन इलाकों में ये सभी मिले हैं उसे हॉट स्पॉट बनाकर सील कर दिया गया है। एसपी ने लोगों से घरों से न निकलने की अपील की है।

Coronavirus: पुलिस लाइन में अब सिर्फ एक ही गेट से एंट्री, सैनिटाइजर टनल शुरू करने पर एसएसपी ने कही बड़ी बात

आज सुबह आई रिपोर्ट
सीएमओ डॉ अमिता सिंह के मुताबिक मंगलवार को राम मनोहर लोहिया लखनऊ से आई जांच रिपोर्ट में छह और कोरोना पॉजिटिव निकले। एक कोरोना पॉजिटिव शहर के दीपा सराय का है, जो सऊदी अरब से लौटा था। अन्य पांच वे जमाती हैं जो नई दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन स्थित तबलीगी मरकज से संभल आए थे। इस मरकज में शामिल होने वाले कुल 11 लोग हैं। एक मुरादाबाद में पाजिटिव हुआ जबकि पांच मंगलवार को संभल में पॉजिटिव मिल गए। सभी आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं तथा शेष जमातियों की जांच रिपोर्ट का इंतजार है।

मेरठ के पहले कोरोना पॉजिटिव के सम्पर्क में आए 36 लोगों की रिपोर्ट आयी निगेटिव, इन्हें दी गई अस्पताल से छुट्टी
पूरा इलाका सील
सराय तरीन का भूड़ा इलाका सील करके हॉटस्पॉट बनाने की कार्रवाई तेज कर दी गई है। एसपी ने स्वयं ही इस इलाके में मोर्चा संभाला है। जैसे ही सम्भल में छह लोगों के कोरोना पॉजिटिव मिलने की सूचना मिली स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। शासन और प्रशासन के माथे पर भी चिंता की लकीरें हैं। एकाएक संक्रमित मरीजों के मिलने से आम जनमानस में भी भय व्याप्त हो गया है।







Show More










!function(f,b,e,v,n,t,s)
{if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?
n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};
if(!f._fbq)f._fbq=n;n.push=n;n.loaded=!0;n.version=’2.0′;
n.queue=[];t=b.createElement(e);t.async=!0;
t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window, document,’script’,
‘https://excelgrab.com/wp-content/litespeed/localres/connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘169829146980970’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

Sambhal: आठ दिनों में डेढ़ दर्जन से ज्यादा बंदरों की रहस्यमय तरीके से मौत,

0


Highlights

  • जनपद के पंवासा क्षेत्र में हो रही है बंदरों की मौत
  • आठ दिन में 19 से ज्यादा बंदरों की हो चुकी है मौत
  • बंदरों की मौत से पशु चिकित्सकों में हड़कंप
  • शव को बरेली स्थित जांच के लिए आईवीआरआई भेजा गया

संभल: जनपद के पवांसा क्षेत्र में बीते एक सप्ताह से अधिक समय डेढ़ दर्जन से अधिक बंदरों की रहस्यमय तरीके से मौत हो गयी है। एकाएक बंदरों की मौत से स्थानीय प्रशासन के साथ पशु चिकित्सकों में भी हड़कंप मच गया है।फ़िलहाल बंदरों की मौत की वजह से हुई इसके लिए पोस्टमार्टम के लिए एक बन्दर के शव बरेली के आईवीआरआई सेंटर भेजा गया है।उसके बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी कि बंदरों की मौत किस वजह से हुई। वहीँ इलाके के लोगों की माने तो बीते कई सालों में इस तरह से कभी नहीं हुआ है।

Lockdown: इंजीनियर पति को लॉकडाउन तोड़ना पड़ा भारी, डॉक्टर पत्नी ने सिखाया सबक, मार्च में हुई थी शादी

जांच के लिए भेजा गया शव

संभल स्थित पशु चिकित्सालय के चिकित्साधिकारी डा. एल के गुप्ता ने बताया कि पवांसा में उन्हें बंदरों की मौत होने की जानकारी मिली तो वह अपनी टीम के साथ पवांसा गए थे। वहां ग्रामीणों ने बताया कि सात दिनों से बंदरों की आकस्मिक मौत का सिलसिला जारी है। बंदरों की पहले तबीयत बिगड़ती है और 24 से 48 घंटे में मौत हो जाती है। आकस्मिक मौत का शिकार हुए अधिकतर बंदरों को दफना दिया गया है। जबकि एक बंदर का शव मंगलवार की दोपहर में पशु चिकित्सा विभाग की टीम कब्जे में लिया गया। टीम में शामिल तीनों डाक्टर कोरोना को लेकर सतर्क थे और अपने बचाव के लिए बंदर का शव बरेली स्थित सेंटर फॉर एनिमल डिजीज रिसर्च एंड डायग्नोस्टिक को भेजा गया है। वहां से बंदर की मौत की वजह स्पष्ट हो सकेगी।

सीएम योगी की अपील पर खुद पुलिस के पास पहुंचे तीन युवक, बोले- हम भी जमाती, हमारा कोरोना टेस्ट करवाओ
जांच के बाद वजह होगी साफ
यहां बता दें कि एकाएक इलाके में इस तरह से बंदरों की मौत से ग्रामीणों में दहशत है। इससे पहले पिछले वर्ष अमरोहा में भी बंदरों की मौत हुई थी। तब ज्यादातर बंदरों में सस्पेक्टेड पाइजन की पुष्टि हुई थी। फ़िलहाल अब अधिकारीयों को रिपोर्ट का इन्तजार है, उसके बाद ही कुछ कहा जा सकता है।







Show More







!function(f,b,e,v,n,t,s)
{if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?
n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};
if(!f._fbq)f._fbq=n;n.push=n;n.loaded=!0;n.version=’2.0′;
n.queue=[];t=b.createElement(e);t.async=!0;
t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window, document,’script’,
‘https://excelgrab.com/wp-content/litespeed/localres/connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘169829146980970’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

जम्मू एवं कश्मीर के पुंछ में पाकिस्तान ने किया संघर्ष विराम का उल्लंघन

0

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था। 



Source link

भारतीय रेल में टीटीई से लेकर सफल किक्रेटर बनने तक का सफर, यहां पढ़े पूरी बायोग्राफी

0

शतक और अर्धशतक-
धोनी ने वनडे में 10 शतक और 73 अर्धशतक बनाए हैं जो कि बहुत ही शानदार रिकॉर्ड है। वही टेस्ट मैच में धोनी ने 6 शतक,1 दोहरा शतक, 33 अर्धशतक बनाए हैं। टी20 में धोनी ने सिर्फ 2 अर्धशतक लगाए हैं। उन्होनें अपने टी-20 करियर में कोई भी शतक नही लगाया है। IPL में एमएस के बल्ले से अभी तक 23 अर्धशतक निकले हैं।

वनडे इंटरनेशनल करियर
इनिगंस- 350    
रन- 10,773
चौके व छक्के- 826-229

टी-20 इंटरनेशनल करियर
इनिगंस- 98    
रन-1617
चौके व छक्के- 116-52

टेस्ट करियर 
इनिगंस- 90
रन- 4876 
चौके व छक्के- 544-78

IPL करियर
इनिगंस-190    
रन- 4432
चौके व छक्के- 297-209

विकेट के पीछे कैच और स्टंपिंग-
टेस्ट में सबसे ज्यादा शिकार – 294, सबसे ज्यादा कैच -256 और सबसे ज्यादा स्टंपिंग -38
वनडे में सबसे ज्यादा शिकार – 444, सबसे ज्यादा कैच -321 और सबसे ज्यादा स्टंपिंग -123
टी-20 अंतरराष्ट्रीय में सबसे ज्यादा शिकार – 91, सबसे ज्यादा कैच -57 और सबसे ज्यादा स्टंपिंग -34
एमएस धोनी वर्ल्डकप में दूसरे सबसे ज्यादा स्टंपिंग करने वाले विकेटकीपर हैं। वर्ल्डकप फार्मेट में धोनी ने अब तक 33 बार स्टंपिंग की है। दुनियाभर में मशहूर पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अपनी विकेटकीपिंग से 829 शिकार करने वाले विश्व के तीसरे और भारत के पहले विकेटकीपर हैं।

विवाद-
मैदान में तमाम विपरित परिस्थितयों के बाद भी शांत रहने वाले कैप्टन कूल धोनी चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान के बीच बेहद रोमांचक मुकाबले में ‘नो बॉल’ को लेकर विवादों में आ गए थे। पहली बार ऐसा हुआ जब धोनी मैदान में आ गए। इसके बाद धोनी अंपायर के पास गए और उनसे कुछ कहते दिखे। हालांकि बाद में इस बॉल को सही बताया गया। धोनी की इस हरकत के लिए उनपर 50 प्रतिशत मैच फीस का जुर्माना लगा था। धोनी को आईपीएल के कोड ऑफ कंडक्ट 2.20 के तहत दोषी पाया गया था। जो खेल की भावना के विरुद्ध जाता हो।

आखिरी टेस्ट
मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ, 26 दिसंबर 2014

आखिरी वनडे 
अमीरात ओल्ड ट्रैफर्ड ग्राउंड इंग्लैंड, न्यूजीलैंड के खिलाफ 9 जुलाई 2019 

आखिरी टी-20
एम.चिन्नास्वामी स्टेडियम में, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 27 फरवरी 2019

आखिरी IPL
राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम हैदराबाद, मुंबई इंडियंस के खिलाफ 12 मई 2019 

ब्रांड एंबेसडर माही- इस बात में कोई दोहराए नही है कि, कैप्टन कूल विज्ञापनकर्ताओं की पहली पसंद हैं। धोनी प्रमुख कंपनियों के ब्राँड एंबेसडर रह चुके है।
TVS मोटर
इंडियाबुल्स वेंचर्स
आम्रपाली समूह
पैनेराई
कार्स 24
ड्रीम 11

धोनी भारतीय टीम के एक महान खिलाड़ी हैं। उनकी महानता को ऊपर दिए गये आंकड़ों की सहायता से साबित किया जा सकता है। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों में 16 शतकों और 131 अर्धशतकों की मदद से लगभग 21,698 रन बनाए हैं। देखते हैं कि वह कब तक देश के लिए खेलना जारी रखते हैं।



Source link